NDTV Khabar

शहडोल लोकसभा सीट : टिकट न मिलने से बीजेपी सांसद ज्ञान सिंह हुए बागी, निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे

बीजेपी ने ज्ञान सिंह का टिकट काटकर हाल ही में कांग्रेस से बीजेपी में आईं हिमाद्री सिंह को दिया, पूर्व सांसद अशोक अर्गल और अनूप मिश्रा भी टिकट न मिलने से नाराज

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहडोल लोकसभा सीट : टिकट न मिलने से बीजेपी सांसद ज्ञान सिंह हुए बागी, निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे

शहडोल के सांसद ज्ञान सिंह ने बीजेपी द्वारा टिकट न दिए जाने से निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है.

खास बातें

  1. शहडोल सीट पर तीन लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं ज्ञान सिंह
  2. ज्ञान सिंह ने 2016 के उपचुनाव में हिमाद्री सिंह को हराया था
  3. अशोक अर्गल भी निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी करने लगे
भोपाल:

मध्यप्रदेश की शहडोल लोकसभा सीट पर बीजेपी के मौजूदा सांसद ज्ञान सिंह ने टिकट न मिलने से बगावत की राह पकड़ ली है. बीजेपी ने ज्ञान सिंह का टिकट काटकर हिमाद्री सिंह को दिया है जो कि हाल ही में कांग्रेस से बीजेपी में आई हैं. ज्ञान सिंह अब निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है.   

कांग्रेस से पिछले सप्ताह ही बीजेपी में आईं हिमाद्री सिंह को लोकसभा चुनाव के लिए टिकट दे दिया गया है. इससे शहडोल सीट पर तीन लोकसभा चुनाव जीत चुके ज्ञान सिंह नाराज हैं. ज्ञान सिंह पांच बार विधायक भी रहे हैं. पार्टी के रवैये से खफा ज्ञान सिंह ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है. इससे बीजेपी के लिए परेशानी पैदा हो सकती है.

मध्यप्रदेश में पूर्व सांसद अशोक अर्गल और अनूप मिश्रा भी टिकट न मिलने से नाराज हैं. अशोक अर्गल भी निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी करने लगे हैं.


मध्यप्रदेश : कांग्रेस नेत्री हिमाद्री सिंह बीजेपी में हुईं शामिल, शहडोल से मिल सकता है टिकट

मध्यप्रदेश की शहडोल संसदीय सीट अनुसूचित जनजाति (एसटी) के लिए आरक्षित है. फिलहाल इस क्षेत्र से बीजेपी के ज्ञान सिंह सांसद हैं. उन्होंने सन 2016 में हुए उपचुनाव में हिमाद्री सिंह को पराजित किया था. इससे पहले वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के दलपत सिंह परस्ते विजयी हुए थे. परस्ते का ब्रेन हेमरेज के कारण निधन होने पर शहडोल में उपचुनाव हुआ था. शहडोल क्षेत्र पर अधिकतर चुनावों में बीजेपी को ही जीत मिलती रही है.

बीजेपी ने मध्य प्रदेश में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे समेत 5 मौजूदा सांसदों का टिकट काटा

शहडोल लोकसभा क्षेत्र एसटी के उम्मीदवार के लिए आरक्षित है. इस सीट पर 1957 में हुए पहले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के कमल नारायण सिंह जीते थे. यहां से बीजेपी के दलपत सिंह और ज्ञान सिंह ने सबसे ज्यादा जीत हासिल की. ज्ञान सिंह साल 2016 का उपचुनाव जीतकर तीसरी बार यहां से सांसद बने.

VIDEO : आडवाणी और जोशी के टिकट भी कटे

टिप्पणियां

शहडोल सीट पर पांच बार बीजेपी तो सात दफा कांग्रेस विजयी हुई. बीजेपी को इस सीट पर सन 1996, 1998, 1999 और 2004 के चुनावों में निरंतर जीत मिली थी. साल 2009 के चुनाव में कांग्रेस के राजेश नंदिनी विजयी हुए थे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement