NDTV Khabar

शीला दीक्षित भी लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव, राहुल गांधी के अनुरोध पर कर रही हैं विचार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इच्छा है कि लोकसभा चुनाव 2019 में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली इकाई की कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित भी चुनाव लड़ें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शीला दीक्षित भी लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव, राहुल गांधी के अनुरोध पर कर रही हैं विचार

शीला दीक्षित (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इच्छा है कि लोकसभा चुनाव 2019 में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली इकाई की कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित भी चुनाव लड़ें. हालांकि, शीला दीक्षित ने भी इस पर सहमति जताने के लिए थोड़ा समय मांगा है. शीला दीक्षित इसके लिए पहले अपने परिवार से राय-विचार करेंगी, तब जाकर अपनी ओर से फैसला लेंगी. यह जानकारी एनडीटीवी को सूत्रों ने दी. 

दिल्ली : आम आदमी पार्टी के कांग्रेस से गठबंधन की संभावनाएं खत्म

रिपोर्ट्स की मानें तो इस सप्ताह के अंत में उम्मीद की जा रही है कि कांग्रेस दिल्ली की सभी सातों लोकसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान करेगी. शीला दीक्षित को नॉर्थ दिल्ली से चुनावी मैदान में कांग्रेस पार्टी उतार सकती है. कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) ने गुरुवार को चार सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप दिया.

अब भी जारी है गठबंधन की कवायद, कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी को दिया यह आखिरी फॉर्मूला!


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष पीसी चाको ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि 'सभी सात उम्मीदवारों की सूची शनिवार को जारी होने की उम्मीद है.' उन्होंने यह भी कहा कि पूर्वी दिल्ली के उम्मीदवार के रूप में शीला दीक्षित का नाम पर गंभीर विचार जारी है. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि अगर उनके बेटे संदीप दीक्षित चुनाव लड़ने की घोषणा इनकार करते हैं तो शीला दीक्षित को मैदान में उतारा जा सकता है. 

कांग्रेस पार्टी ने दक्षिण दिल्ली संसदीय सीट के लिए दिल्ली के पूर्व मंत्री योगानंद शास्त्री और ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के नाम को शॉर्टलिस्ट किया है. सूत्र ने कहा कि 'राष्ट्रीय राजधानी में पूर्वांचली मतदाताओं के महत्व को देखते हुए पार्टी पश्चिमी दिल्ली के पूर्व सांसद महाबल मिश्रा को मैदान में उतार सकती है, जहां पूर्वी यूपी और बिहार से संबंधित समुदाय की बड़ी आबादी है.

केजरीवाल ने कहा- शीला दीक्षित महत्वपूर्ण नेता नहीं, कांग्रेस नहीं करेगी 'आप' से गठबंधन

पार्टी ने चांदनी चौक से पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल, उत्तर पश्चिम सीट से दिल्ली के पूर्व मंत्री राजकुमार चौहान, नई दिल्ली से राज्य इकाई के पूर्व प्रमुख अजय माकन और उत्तर पूर्वी दिल्ली क्षेत्र से पूर्व सांसद जे पी अग्रवाल के चुनावी मैदान में आने की संभावना है. बता दें कि दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन की संभावनाएं खत्म हो चुकी हैं और दोनों ही पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ेंगी. 

टिप्पणियां

वीडियो- 'आप' का हाथ थाममेगी कांग्रेस?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement