NDTV Khabar

'हम देहे जात रहिन कमल पर, हाथ पकड़के पंजा पर धर दिहिन': VIDEO शेयर कर स्मृति ईरानी ने लगाया बूथ कैप्चरिंग का आरोप

Lok Sabha Elections 2019 Phase 5 Voting: यूपी के 16 जिलों की 14 लोकसभा सीटों के लिए हो रही वोटिंग के बीच बूथ कैप्चरिंग की घटना सामने आई है. बीजेपी ने आरोप लगाया है कि एक बुजुर्ग महिला से जबरदस्ती कांग्रेस के निशान वाले बटन को बदवाया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. अमेठी में बीजेपी ने लगाया बूथ कैप्चरिंग का आरोप.
  2. स्मृति ईरानी ने चुनाव आयोग को सूचित किया.
  3. बीजेपी ने एक महिला का वीडियो शेयर किया है.
अमेठी :

Lok Sabha Elections 2019 Phase 5 Voting: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पांचवें चरण में 51 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इस चरण में अमेठी और रायबरेली की सीटों पर सबकी नजरें हैं, क्योंकि इस बार राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच कांटे की टक्कर की उम्मीद है. यूपी के 16 जिलों की 14 लोकसभा सीटों के लिए हो रही वोटिंग के बीच बूथ कैप्चरिंग की घटना सामने आई है. बीजेपी ने आरोप लगाया है कि एक बुजुर्ग महिला से जबरदस्ती कांग्रेस के निशान वाले बटन को बदवाया गया. इस वीडियो को अमेठी के बीजेपी आईटी सेल के संयोजक ने शेयर किया है, जिसे केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी शेयर कर राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया है और चुनाव आयोग से संज्ञान लेने को कहा है. 

स्मृति ईरानी ने जिस वीडियो को अपने ट्विटर पर शेयर किया है, उसमें एक बुजुर्ग महिला कैमरे के सामने कहती है 'हाथ पकड़कर हमार जबरदस्ती पंजा पर धर दिहिन. हम देहे जात रहिन कमल पर ( कमल पर देना चाहती थी, जबरदस्ती पंजा पर डलवा दिया). हम धरे जात रहिन कमल पर, मगर अपने हाथे पंजा पर दबा दिहिन.' बीजेपी नेता विवेक महेश्वरी ने इस वीडियो के साथ जानकारी भी दी है कि यह मामला गौरीगंज के गूजरटोला बूथ नंबर 316 का है जहां पीठासीन अधिकारी ने जबरदस्ती कांग्रेस को वोट डलवा दिया. हालांकि, यह वीडियो कितना सही है और कितना गलत, इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हो पाई है. 


स्मृति ईरानी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर चुनाव आयोग को टैग करते हुए यह सूचना दी है कि राहुल गांधी बूथ कैप्चरिंग करा रहे हैं. वहीं, समाचार एजेंसी एएनआई को स्मृति ईरानी ने कहा कि मैंने प्रशासन और चुनाव आयोग को ट्वीट के जरिए इसकी सूचना दे दी है. उम्मीद है कि वे कार्रवाई करेंगे. अब इस देश के लोगों को यह तय करना है कि राहुल गांधी के इस तरह की राजनीति को सजा दी जानी चाहिए या नहीं. 

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज, लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशांबी, बाराबंकी, फैजाबाद, बहराइच, कैसरगंज और गोंडा संसदीय क्षेत्रों के लिए वोट डाले जा रहें हैं. मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया कि स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए तैयारियां पूरी हैं. मतदान स्थलों पर होने वाले मतदान की निगरानी के लिए 1,361 डिजिटल एवं 1,521 वीडियो कैमरे लगाए गए हैं. 2,778 पोलिंग बूथों की वेब कास्टिंग कराई जा रही है.  

टिप्पणियां

गौरलब है कि पांचवें चरण के चुनाव पर सबकी निगाहें इसलिए हैं क्योंकि इसमें राजनाथ सिंह, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, साध्वी निरंजन ज्योति, स्मृति ईरानी, जितिन प्रसाद, निर्मल खत्री और ब्रजभूषण शरण सिंह जैसे दिग्गजों का सियासी भविष्य तय होगा. 

Video: अमेठी में राहुल और प्रियंका ने साझा किया मंच



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement