NDTV Khabar

नीतीश जी किस नाम की मज़दूरी मांग रहे है : तेजस्वी कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में एक जनसभा में कहा था, ''हम काम के आधार पर आपसे वोट मांगने आये हैं. पिछले 13 साल में जो मैंने काम किया है, आज उसकी मजदूरी मांग रहा हूं.''

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश जी किस नाम की मज़दूरी मांग रहे है : तेजस्वी कुमार

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

चुनाव प्रचार के दौरान जनता से काम की मजदूरी मांगने के नीतीश कुमार के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राजद के नेता एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री से सवाल किया कि क्या वे मुज़फ्फरपुर बालिका गृह, सृजन घोटाले या जनादेश का अपमान करने के नाम पर मजदूरी मांग रहे हैं? तेजस्वी ने ट्वीट किया, ‘‘नीतीश जी किस बात की मज़दूरी माँग रहे है?'' उन्होंने कहा कि मुज़फ्फरपुर बालिका गृह में 34 बच्चियों के साथ हुए बलात्कार एवं उन दरिदों को बचाने या 2013 में भाजपा को छोड़ने या 2017 में 11 करोड़ लोगों के जनादेश का चीरहरण करने या सृजन घोटाला समेत 40 अन्य कथित घोटाले करने के नाम पर मज़दूरी मांग रहे है? मुख्यमंत्री यह बताएं. 


'लालू यादव के खाने में जहर?' सुशील मोदी ने परिवार पर जताया शक, तेजस्वी यादव बोले- कुछ तो शर्म करो सृजन चोर

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में एक जनसभा में कहा था, ''हम काम के आधार पर आपसे वोट मांगने आये हैं. पिछले 13 साल में जो मैंने काम किया है, आज उसकी मजदूरी मांग रहा हूं.'' उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सबके लिए काम कर रही है. लालू प्रसाद की पार्टी पर निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा था कि जनता ने 15 साल आरजेडी को मौका दिया था, इस दौरान आरजेडी ने क्या किया.वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा ‘‘नीतीश जी, लालटेन रोशनी और प्रकाश का प्रतीक है. तीर का जमाना समाप्त हो गया और अब मिसाइल का ज़माना है इस तीर से कमल पर निशाना साधकर भाजपा से पुराना बदला चुका रहे हैं क्या?'' 

तेजस्वी यादव ने PM मोदी को बताया नकली OBC, कहा- न PMO में ओबीसी अफसर हैं न देश में VC, आपने क्या किया?

उन्होंने कहा कि दोनों (बीजेपी+जदयू) से बिहार की जनता ऊब गई है. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नीतीश कुमार अपने भाषण में बोलते हैं कि लालटेन का जमाना चला गया है. लेकिन उन्हें नहीं पता है कि लालटेन विकास और उजाला का प्रतीक है. राबड़ी ने कहा कि दिवाली में जिस घर में लालटेन और दिया जलता है, उस घर में सुख शांति होती है. नीतीश के तीर का जमाना खत्म हो गया है. 

मानहानि पर सुशील मोदी vs तेजस्वी​

टिप्पणियां

इनपुट : भाषा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement