NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में पीएम मोदी की तस्वीर लगी टिकट देने पर रेलवे के दो कर्मचारी निलंबित

टिकट खरीदने वाले शख्स मोहम्मद शब्बार रिजवी ने एनडीटीवी से कहा कि 'उन्होंने बाराबंकी से वाराणसी जाने के लिए गंगा-सतलज एक्सप्रेस की टिकट ली. जब उन्होंने टिकट को देखा तो उन्हें इस पर पीएम मोदी की तस्वीर मौजूद दिखी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में पीएम मोदी की तस्वीर लगी टिकट देने पर रेलवे के दो कर्मचारी निलंबित

रेल टिकट पर पीएम मोदी की तस्वीर

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में पीएम मोदी की तस्वीर लगी टिकट बांटने पर रेलवे के दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है. एडीएम ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि 13 अप्रैल को जब शिफ्ट बदली तो टिकट की पुरानी रोल जिसमें पीएम मोदी की तस्वीर लगी थी उसको गलती से इस्तेमाल कर लिया गया. इस मामले में दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया और जांच जारी है. गौरतलब है कि आचार संहिता लागू होते ही सभी सरकारी इमारतों और वस्तुओं से प्रधानमंत्री और सरकार से जुड़े नेताओं की तस्वीर हटा दी जाती है. इसी कड़ी में हाइवे में लगे बोर्डों से भी कई जगहों पर पीएम मोदी की तस्वीरें या तो हटा या फिर ढक दी गईं.  आपको बता दें कि लखनऊ से 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बारांबकी में एक शख्स ने रविवार को शहर के रेलवे स्टेशन पर एक टिकट खरीदा, जिस पर पीएम मोदी की तस्वीर और सरकारी योजना के विवरण मौजूद थे. टिकट के एक भाग पर प्रधानमंत्री आवास योजना का विवरण था तो दूसरे भाग पर पीएम मोदी की तस्वीर मौजूद थी. 


रेलवे उड़ा रहा आचार संहिता की धज्जियां, यात्री ने मोदी की तस्वीर वाले टिकट पर टोका तो हुआ यह

टिकट खरीदने वाले शख्स मोहम्मद शब्बार रिजवी ने एनडीटीवी से कहा कि 'उन्होंने बाराबंकी से वाराणसी जाने के लिए गंगा-सतलज एक्सप्रेस की टिकट ली. जब उन्होंने टिकट को देखा तो उन्हें इस पर पीएम मोदी की तस्वीर मौजूद दिखी. मुझे पता है कि अभी सभी जगह आचार संहिता लागू है और इस लिहाज से यह सही नहीं है. मैंने सुपरवाइजर से इसकी शिकायत करने की कोशिश की, मगर मुझे डांट कर भगा दिया गया. फिर मैंने मीडिया के कुछ लोगों को बुलाया, जिन्हें मैं जानता था.' मोहम्मद शब्बार रिजवी का दावा है कि अन्य लोगों को भी इसी तरह के टिकट जारी किए गए और उन लोगों ने भी इसका विरोध किया. बुकिंग ऑफिस पर मौजूद एक सुपरवाइजर ने मीडिया से कहा कि पीएम मोदी की तस्वीर वाली रोल प्रिटिंग मशीन में गलती से डाल दिया गया. 

जया प्रदा के खिलाफ अमर्यादित बयान को लेकर आजम खान पर चला EC का 'डंडा', मेनका गांधी पर भी कार्रवाई

टिप्पणियां

गौरतलब है कि 20 मार्च को रेलवे ने प्रधानमंत्री की तस्वीरों वाली टिकटें वापस ली थीं. तृणमूल कांग्रेस ने इनके बारे में निर्वाचन आयोग से शिकायत की थी. रेलवे ने भी यही कहा था कि ये तीसरे पक्ष के विज्ञापन हैं और एक साल पहले छपे टिकटों के पैकेट से बचे हुए हैं.

अब BSP उम्मीदवार गुड्डू पंडित का विवादित बयान​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement