NDTV Khabar

मेरे परिवार से भी कई लोग पीएम रहे हैं, लेकिन वो आदमी जी रहा है देश के लिए और मरेगा भी देश के लिए : वरुण गांधी

गौरलब है  वरुण गांधी को बीजेपी ने पीलीभीत से इस बार लोकसभा का टिकट दिया है और जिस पर अभी तक उनकी मां और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी सांसद रही हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेरे परिवार से भी कई लोग पीएम रहे हैं, लेकिन वो आदमी जी रहा है देश के लिए और मरेगा भी देश के लिए : वरुण गांधी

वरुण गांधी पीलीभीत में सभा को संबोधित करते हुए

खास बातें

  1. पीलीभीत से प्रत्याशी हैं वरुण गांधी
  2. पहले भी सांसद रह चुके हैं वरुण
  3. अभी सुल्तानपुर से सांसद हैं
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत संसदीय क्षेत्र में प्रचार करने पहुंचे  बीजेपी सांसद वरुण गांधी  ने कहा है कि उनके परिवार से भी कई लोग प्रधानमंत्री हुए हैं लेकिन जो सम्मान पीएम मोदी ने देश को दिलाया है वो बहुत लंबे समय तक किसी ने देश को नहीं दिलाया. वरुण गांधी ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि वो आदमी केवल जी रहा है देश के लिए और मरेगा देश के लिए. उसको केवल देश की चिंता है. वरुण गांधी ने इस पहले नामांकन दाखिल करने के बाद भी पीएम मोदी की जमकर तारीफ कर चुके हैं. उन्होंने कहा देश को एक लंबे आरसे बाद ऐसा प्रधानमंत्री मिला है, जिसके बारे में छाती चौड़ी करके बोल सकते हैं कि हमारे पास ऐसा प्रधानमंत्री है. उन्होंने कहा, "मोदी के लिए देश के सिपाही की तरह उनका झंडा लेकर खड़ा हूं. जो काम उन्होंने पांच साल में किया है, वह अगले पायदान पर जाकर देश के मान सम्मान को बढ़ाए. देश को पूरी दुनिया में आगे ले जाकर छोड़े. एक लंबे अरसे बाद ऐसा प्रधानमंत्री देश को मिला है, जिसके बारे में छाती चौड़ी करके बोल सकते हैं कि हमारे पास ऐसा प्रधानमंत्री है." उन्होंने कहा, "केंद्र सरकार ने किसानों के लिए काफी काम किया है, लेकिन हमारे लिए सुरक्षा भी एक अहम मुद्दा है. विपक्षी पार्टियों के द्वारा राजनीति के स्तर को गिराया जा रहा है."


मेनका गांधी का हमला- बिना पैसे टिकट नहीं देतीं मायावती, जो अपने लोगों को नहीं बख्शती, वो देश को कैसे बख्शेंगी

गौरलब है  वरुण गांधी को बीजेपी ने पीलीभीत से इस बार लोकसभा का टिकट दिया है और जिस पर अभी तक उनकी मां और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी सांसद रही हैं. वरुण गांधी पिछले बार सुल्तानपुर से जीतकर लोकसभा पहुंचे थे. इस बार इस सीट से बीजेपी ने मेनका गांधी को उतारा है. सीटों की यह अदला-बदली बीजेपी की रणनीति मानी जा रही है. सुल्तानपुर लोकसभा सीट अमेठी और रायबरेली के पास ही आती है और कांग्रेस की ओर से पूर्वांचल की जिम्मेदारी प्रियंका गांधी वाड्रा को दी गई है. मेनका भी गांधी परिवार से आती हैं माना जा रहा है कि मेनका की मौजूदगी से प्रियंका का असर कम किया जा सकता है. दूसरी ओर सूत्रों का कहना है कि सुल्तानपुर में वरुण गांधी की स्थिति अच्छी नहीं है इसलिए मेनका गांधी ने खुद यह सीट बदलवाई है. 

टिप्पणियां

आखिर क्यों मेनका गांधी ने बेटे वरुण गांधी के लिए छोड़ी पीलीभीत की सीट? जानें सियासी मायने

दूसरी ओर वरुण गांधी का रुख राहुल और प्रियंका को लेकर हमेशा से ही नरम रहा है. बीच में वरुण गांधी की पार्टी से नाराजगी की भी खबरें आई थीं. लेकिन कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से मतभेदों को लेकर मेनका गांधी के तेवर सख्त ही रहे हैं. वहीं बात करें पीलीभीत से वरुण गांधी इस सीट से पहले भी सांसद रह चुके हैं.  वरुण गांधी पीलीभीत में दिए अपने एक बयान की वजह से भी चर्चा में रहे हैं. जिस पर उन्होंने मुकदमा भी झेला है. गौरतलब है कि वरुण गांधी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दूसरे बेटे संजय गांधी के पुत्र हैं. कभी कांग्रेस में सर्वेसर्वा की भूमिका मे रहे संजय गांधी की मौत एक एयरक्राफ्ट दुर्घटना में हो गई थी.   



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement