NDTV Khabar

अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को चुनाव में मिली हार के बताए दो कारण, कहा- इस वजह से नहीं मिला वोट

चुनाव में हार के बाद अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कार्यकर्ताओं को एक खत लिखा. इसमें उन्होंने लिखा कि पार्टी लोगों को यह समझाने में असफल रही कि लोकसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी (AAP) को क्यों वोट दिया जाना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को चुनाव में मिली हार के बताए दो कारण, कहा- इस वजह से नहीं मिला वोट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को लिखा खत.

खास बातें

  1. अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को लिखा खत
  2. 'आप' संयोजक ने चुनाव में मिली हार के दो कारण बताए
  3. विधानसभा चुनाव पर फोकस करने की दी सलाह
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) को लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा. पार्टी की करारी हार के बाद 'आप' संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कार्यकर्ताओं को एक खत लिखा. इसमें उन्होंने लिखा कि पार्टी लोगों को यह समझाने में असफल रही कि लोकसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी (AAP) को क्यों वोट दिया जाना चाहिए. पत्र में केजरीवाल ने 'शानदार' अभियान चलाने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं की सराहना की. उन्होंने कहा कि हालांकि परिणाम हमारी उम्मीद के अनुरूप नहीं रहे. चुनाव के पश्चात जमीनी समीक्षा में दो मुख्य कारण उभर कर सामने आए. पहला, देश में व्याप्त वातावरण का प्रभाव दिल्ली में भी पड़ा. दूसरा, लोगों ने इस 'बड़े चुनाव' को मोदी और राहुल के बीच देखा और उसी अनुसार वोट दिया.


तो क्या विधानसभा चुनाव से पहले ही अपनी सीट हार चुके हैं अरविंद केजरीवाल?  

उन्होंने कहा कि जो भी कारण हो, लेकिन हम आम लोगों को यह समझाने में सफल नहीं रहे कि आप (पार्टी) को वोट क्यों देना चाहिए. केजरीवाल ने सकारात्मक पहलू के बारे में कहा, 'लोगों ने उत्साहपूर्वक हमें आश्वासन दिया है कि दिल्ली विधानसभा के छोटे चुनाव में वे दिल्ली में हमारे द्वारा कराये गए कार्यों के लिए वोट देंगे.' बता दें कि दिल्ली की सभी सातों सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की है. वहीं, आम आदमी पार्टी को सिर्फ पंजाब में एक सीट मिली है.

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे अरविंद केजरीवाल, शीला दीक्षित को नहीं मिला न्यौता

इससे पहले भी केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं से जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करने को कहा था. अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं से अगले साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव पर ध्यान केंद्रित करने की अपील की थी. पश्चिम दिल्ली के पंजाबी बाग में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा था कि भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम चलाने वाले अन्ना हजारे ने उनसे कहा था, 'जब कोई राजनीति या सार्वजनिक जीवन में आता है तो उसमें अपमान भी सहने की क्षमता होनी चाहिए.'

यह भी पढ़ें: Results 2019: दिल्ली में क्लीन स्वीप के बाद बोले मनोज तिवारी- हमारा अगला टारगेट 'अरविंद केजरीवाल को...'

उन्होंने कहा, 'कई बार हमें अपमान सहना पड़ता है और मुझे इस अपमान को विनम्रता से स्वीकार करने के लिए अपने कार्यकर्ताओं पर गर्व है.' उन्होंने कहा, 'अब आप दिल्ली के लोगों के पास जाएं और उन्हें बताएं कि बड़ा चुनाव खत्म हो गया है और छोटे चुनाव आने वाले हैं. इन चुनावों में आपलोग नाम के आधार पर नहीं, बल्कि काम के आधार पर वोट दें.' 

यह भी पढ़ें: Delhi Election Results: दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने स्वीकारी हार, जानिए इस शिकस्त के 7 कारण

उन्होंने कहा, 'अगले साल होने वाला विधानसभा चुनाव किसी एक विधायक या पार्षद द्वारा नहीं लड़ा जाएगा. यह टीम केजरीवाल द्वारा लड़ा जाएगा और हमारा नारा होगा- 'लड़ेंगे, जीतेंगे.'

VIDEO: क्या खिसक रही है 'आप' की सियासी जमीन?

टिप्पणियां

(इनपुट: एजेंसी)



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement