NDTV Khabar

यशवंत सिन्हा का दावा: गुजरात दंगों के बाद मोदी को हटाना चाहते थे पूर्व PM अटल, आडवाणी ने धमकी देकर बचाई थी कुर्सी

यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि 2002 के गुजरात दंगों के बाद अटलजी गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को बर्खास्त करना चाहते थे, लेकिन इससे खफा होकर लालकृष्ण आडवाणी ने केंद्रीय गृह मंत्री के पद से त्याग पत्र देने की धमकी दे डाली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यशवंत सिन्हा का दावा: गुजरात दंगों के बाद मोदी को हटाना चाहते थे पूर्व PM अटल, आडवाणी ने धमकी देकर बचाई थी कुर्सी

यशवंत सिन्हा (फाइल फोटो)

भोपाल:

प्रधानमंत्री के बड़े आलोचक के रूप में उभरे और बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा ने लालकृष्ण आडवाणी को लेकर एक बड़ा दावा किया है. पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल के सदस्य रहे पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने शुक्रवार को दावा किया कि 2002 के गुजरात दंगों के बाद अटलजी गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को बर्खास्त करना चाहते थे, लेकिन इससे खफा होकर पार्टी के नंबर दो रैंक के नेता लालकृष्ण आडवाणी ने केंद्रीय गृह मंत्री के पद से त्याग पत्र देने की धमकी दे डाली, जिसके कारण मोदी की बर्खास्तगी रुक गई थी. 

मोदी सरकार के घोर विरोधी यशवंत सिन्हा ने हजारीबाग में डाला वोट, इस सीट पर उनके बेटे जयंत हैं BJP प्रत्याशी

भोपाल में कार्यक्रम में इस बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में भाजपा के पूर्व कद्दावर नेता यशवंत सिन्हा ने संवाददाताओं को बताया, ‘यह बिल्कुल सही है कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने गुजरात में सांप्रदायिक दंगों के बाद यह तय कर दिया था कि गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को इस्तीफा देना चाहिए.' उन्होंने कहा, ‘गोवा में (भाजपा की) राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक हुई थी, जिसमें अटल जी मन बना कर गए थे कि मोदीजी इस्तीफा नहीं देंगे तो उनको वो बर्खास्त करेंगे.' यशवंत सिन्हा ने बताया, ‘पार्टी में इस पर मंत्रणा हुई. और जहां तक मुझे जानकारी है, उसके मुताबिक आडवाणी जी ने इसका विरोध किया था और अटलजी को यहां तक बात कही कि यदि मोदी को आप बर्खास्त करेंगे तो मैं (आडवाणी) भी सरकार में पद (गृह मंत्री) से त्याग पत्र दे दूंगा.' 


राफेल डील: सरकार जिन्हें बता रही है 'चोरी' के दस्तावेज, क्या वे बन सकते हैं सबूत, सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा फैसला, 10 बड़ी बातें

उन्होंने आगे कहा, ‘इसलिए वह बात वहीं रुक गई और मोदीजी अपने पद पर बने रहे.' पीएम मोदी एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर तंज कसते हुए सिन्हा ने कहा कि भाजपा अब अटल-आडवाणी के जमाने की भाजपा नहीं रह गई है. अटलजी के जमाने में विचारधारा का टकराव नहीं था. वह उदारवादी दौर था, जो आज की भाजपा में समाप्त हो चुका है. आज देश में असहिष्णुता का वातावरण होता जा रहा है. उन्होंने कहा कि वर्तमान में हो रहे लोकसभा चुनाव एवं विधानसभा चुनावों में भी भाजपा ने पाकिस्तान को मुद्दा बनाया है, जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है. 

यशवंत सिन्हा ने AFSPA को लेकर बीजेपी पर कसा तंज, कहा- कांग्रेस तो बाद में हटाएगी आपने तो इसे हटा भी दिया

टिप्पणियां

यशवंत सिन्हा ने बताया कि इसके अलावा, नरेन्द्र मोदी की सरकार जम्मू-कश्मीर के दो मुद्दे - धारा 370 एवं धारा 35 ए - को उठा रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि इन दो मुद्दों से देश को बांटने का काम हो रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी एवं जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था खराब हुई है और बेरोजगारी बढ़ी है.  (इनपुट भाषा से)

वीडियोदेश का अगला पीएम कौन होगा, जानिए क्या बोले यशवंत सिन्हा? 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement