NDTV Khabar

ये हैं चुनावी समर के वो 4 बड़े नेता, जिनकी चुनाव आयोग ने कर दी 'बोलती बंद'

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान नेताओं के हेट स्पीच को लेकर चुनाव आयोग सख्त हो गया है. चुनावी भाषणों में नेताओं द्वारा लगातार विद्वेष भावना वाले बयानों की शिकायतों पर चुनाव आयोग ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ये हैं चुनावी समर के वो 4 बड़े नेता, जिनकी चुनाव आयोग ने कर दी 'बोलती बंद'

योगी आदित्यनाथ और मायावती की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान नेताओं के हेट स्पीच को लेकर चुनाव आयोग सख्त हो गया है. चुनावी भाषणों में नेताओं द्वारा लगातार विद्वेष भावना वाले बयानों की शिकायतों पर चुनाव आयोग ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है और अब तक सियासी समर के चार बड़े नेताओं को चुनावी प्रचार से बैन कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद चुनाव आयोग ने डंडा चलाया और आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बसपा सुप्रीमो मायावती, बीजेपी नेता मेनका गांधी और सपा नेता आजम खान की कुछ समय के लिए बोलती बंद कर दी और इस तरह अभी वे किसी रोड शो या रैली में नहीं दिखेंगे. हालांकि, चुनाव आयोग की इस कार्रवाई से सुप्रीम कोर्ट संतुष्ट दिखा. सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि अब लगता है हमारे आदेश के बाद चुनाव आयोग जग गया है.

चुनाव में हेट स्पीच पर EC की कार्रवाई से सुप्रीम कोर्ट संतुष्ट, कहा- लगता है हमारे आदेश के बाद चुनाव आयोग जाग गया


योगी आदित्यनाथ पर 72 घंटे का बैन:
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कार्रवाई करते हुए चुनाव आयोग ने उन पर 72 घंटे का बैन लगा दिया है. चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 72 घंटे तक देश में कहीं भी प्रचार करने से रोकने का सोमवार को आदेश जारी किया. गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने भी चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कथित रूप से विद्वेष फैलाने वाले भाषणों का सोमवार को संज्ञान लिया और निर्वाचन आयोग से जानना चाहा कि उसने इनके खिलाफ अभी तक क्या कार्रवाई की है. इसके बाद आयोग ने कार्रवाई कर उनके ऊपर 72 घंटे का बैन लगा दिया. मेरठ में एक रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अगर कांग्रेस-बीएसपी-एसपी को 'अली' पर विश्वास है तो हमें भी बजरंगबली पर विश्वास है. 

चुनाव आयोग के बैन पर मायावती को राहत नहीं, सुनवाई से इनकार कर सुप्रीम कोर्ट बोला- लगता है चुनाव आयोग अब जग गया है

मायावती पर 48 घंटे का बैन:
चुनाव आयोग ने बसपा प्रमुख मायावती के विद्वेष फैलाने वाले भाषणों पर भी संज्ञान लिया था. चुनाव आयोग ने बसपा प्रमुख मायावती पर कार्रवाई करते हुए 48 घंटे तक देश में कहीं भी प्रचार करने पर बैन लगाने का आदेश दिया. देवबंद में सपा-बसपा-रालोद महागठबंधन की पहली चुनावी रैली में मायावती ने मुस्लिम मतदाताओं का आह्वान करते हुए कहा था कि भाजपा को कांग्रेस नहीं हरा सकती. उसे सिर्फ महागठबंधन हरा सकता है, लिहाजा मुस्लिम मतदाता कांग्रेस को वोट देकर उसे ज़ाया करने के बजाय महागठबंधन प्रत्याशियों के पक्ष में एक तरफा मतदान करें. 

चुनाव आयोग ने मायावती पर लगाया 48 घंटे का बैन, BSP प्रमुख ने साजिश और लोकतंत्र की हत्या बताया

आजम खान पर 72 घंटे का बैन:
बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ सपा नेता आजम खान की अमर्यादित टिप्पणी 'खाकी अंडरवियर' को लेकर चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाई. चुनाव आयोग ने जया प्रदा के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने पर आजम खान को 72 घंटे तक प्रचार करने पर रोक लगा दी है. आजम खान पर यह आदेश मंगलवार सुबह 10 बजे से प्रभावी हुआ. आजम खान ने रविवार को रामपुर में एक जनसभा के दौरान अप्रत्यक्ष रूप से जया प्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. आजम खान ने कहा था 'जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया...उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पेहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.' बता दें कि रामपुर से आजम खान सपा के उम्मीदवार हैं, जहां बीजेपी की ओर से जयाप्रदा मैदान में हैं. 

टिप्पणियां

मेनका गांधी पर 48 घंटे का बैन:
केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी पर भी चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाई है. चुनाव आयोग ने मेनका गांधी के चुनाव प्रचार करने पर 48 घंटे की रोक लगाई है. मेनका गांधी के खिलाफ भी चुनाव आयोग का यह आदेश भी आज से लागू हो गया. है. मेनका गांधी ने मुस्लिम बहुल क्षेत्र तूराबखानी में बीते गुरुवार को आयोजित एक चुनावी सभा में कहा था कि मैं लोगों के प्यार और सहयोग से जीत रही हूं, लेकिन अगर मेरी यह जीत मुसलमानों के बिना होगी तो मुझे बहुत अच्छा नहीं लगेगा. बीजेपी नेता ने कहा कि इतना मैं बता देती हूं कि फिर दिल खट्टा हो जाता है. फिर जब मुसलमान आता है काम के लिए, फिर मै सोचती हूं कि नहीं रहने ही दो क्या फर्क पड़ता है. आखिर नौकरी भी तो एक सौदेबाजी ही होती है, बात सही है या नहीं?'' . बता दें कि सुल्तानपुर से मेनका गांधी बीजेपी उम्मीदवार हैं. 

VIDEO: जया प्रदा पर विवादित बयान को लेकर आज़म ख़ान के खिलाफ़ FIR दर्ज



NDTV.in पर हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा के चुनाव परिणाम (Assembly Elections Results). इलेक्‍शन रिजल्‍ट्स (Elections Results) से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरेंं (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement