NDTV Khabar

एयर इंडिया के कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में की बैठक

उसने कहा कि एयर इंडिया को ऐसे समय में बेचा जा रहा है जब कंपनी परिचालन एवं दक्षता के सभी मानकों पर प्रगति कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एयर इंडिया के कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में की बैठक

(फाइल फोटो)

मुंबई: एयर इंडिया यूनियंस ज्वायंट फोरम अगेंस्ट प्राइवेटाइजेशन ने सार्वजनिक विमानन कंपनी को नहीं बेचे जाने की मांग आज फिर दोहरायी. उसने कहा कि एयर इंडिया को ऐसे समय में बेचा जा रहा है जब कंपनी परिचालन एवं दक्षता के सभी मानकों पर प्रगति कर रही है. संगठन ने इस कदम को ‘नुकसान का राष्ट्रीयकरण एवं मुनाफे का निजीकरण’ करार दिया. इस फोरम में एयर इंडिया के कर्मचारियों तथा अधिकारियों के सात संगठन शामिल हैं. फोरम की आज यहां हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया. फोरम ने यह कदम तब उठाया है जब दो दिन पहले बांबे हाई कोर्ट ने एयर इंडिया प्रबंधन की उस याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें फोरम की बैठक पर रोक लगाने की मांग की गयी थी.

यह भी पढ़ें : एयर इंडिया को है 1500 करोड़ के अल्पावधि ऋण की जरूरत

टिप्पणियां
फोरम ने दिल्ली में एक राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करने का भी निर्णय लिया ताकि निजीकरण के विरोध में अपना पक्ष मजबूत कने के लिए आगे की रणनीतियां तैयार की जा सके.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement