NDTV Khabar

शिवसेना की BJP को दो टूक, कहा- राष्ट्रपति किसी की जेब में नहीं, ऐसी धमकी...

शिवसेना ने शनिवार को आगाह करते हुए कहा कि राष्ट्रपति देश का संवैधानिक प्रमुख है और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा राष्ट्रपति या राज्यपाल के कार्यालय का दुरुपयोग करने का कोई भी प्रयास 'देश के लिए खतरा' है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शिवसेना की BJP को दो टूक, कहा- राष्ट्रपति किसी की जेब में नहीं, ऐसी धमकी...

शिवसेना ने राष्ट्रपति या राज्यपाल के कार्यालय का दुरुपयोग करने का कोई भी प्रयास 'देश के लिए खतरा' है. 

खास बातें

  1. शिवसेना ने बीजेपी पर साधा निशाना
  2. कहा, राष्ट्रपति कार्यालय को घसीटना 'अनुचित
  3. राष्ट्रपति देश का संवैधानिक प्रमुख है, वह किसी की जेब में नहीं
मुंबई:

शिवसेना ने शनिवार को आगाह करते हुए कहा कि राष्ट्रपति देश का संवैधानिक प्रमुख है और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा राष्ट्रपति या राज्यपाल के कार्यालय का दुरुपयोग करने का कोई भी प्रयास 'देश के लिए खतरा' है. भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने शुक्रवार को कहा था कि यदि महाराष्ट्र में 7 नवंबर तक सरकार नहीं बनती है, तो ऐसी स्थिति में राज्य में राष्ट्रपति शासन लग सकता है. भाजपा नेता पर निशाना साधते हुए शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि राज्य के राजनीतिक संकट में राष्ट्रपति कार्यालय को इस तरह से घसीटना 'अनुचित और गलत' है. 

'राष्ट्रपति शासन' वाले बयान पर शिवसेना का BJP को जवाब- ऐसी धमकियों से फर्क नहीं पड़ता


टिप्पणियां

राउत ने कहा, "राष्ट्रपति देश का संवैधानिक प्रमुख है...वह किसी की जेब में नहीं है. इस तरह की धमकी देना जनता के जनादेश का अपमान है." उन्होंने कहा कि ना तो कोई भी 'मराठी मानूस' मुनगंटीवार के बयान से सहमत है और न ही शिवसेना को इस तरह की धमकियों से रोका जा सकता है. उन्होंने दोहराया कि शिवसेना अपने गठबंधन की प्रतिबद्धताओं को भाजपा के साथ 'अंतिम क्षण तक' सम्मान देगी, लेकिन इसके बाद 'रूको और देखो' की नीति को नहीं अपनाया जाएगा. 

सिटी सेंटर: महाराष्ट्र की राजनीति पर NCP नेता सुप्रिया सुले से बात​



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement