NDTV Khabar

Bal Thackeray's Birthday: शिवसेना समर्थक ने कुछ इस अंदाज में बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, 33 हजार रुद्राक्ष से बनाई तस्वीर

राउत (Bal Thackeray's birth anniversary) ने इस तस्वीर को शिव सेना (Shiv Sena) भवन के बाहर लगाया है. राउत के बताया कि बाला साहेब ठाकरे (Bal Thackeray's birth anniversary) को रुद्राक्ष ज्यादा पसंद थे.

53 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Bal Thackeray's Birthday: शिवसेना समर्थक ने कुछ इस अंदाज में बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, 33 हजार रुद्राक्ष से बनाई तस्वीर

बाला साहेब ठाकरे की जंयती

खास बातें

  1. शिव सेना के प्रशंसक ने बनाई बाला साहेब की तस्वीर
  2. बाला साहेब ठाकरे की जंयती पर बनाना चाहता था रिकॉर्ड
  3. शिव सेना मुख्यालय के बाहर लगाई तस्वीर
मुंबई :

बाला साहेब ठाकरे की जयंती (Bal Thackeray's birth anniversary) के मौके पर शिवसेना के एक समर्थक ने उन्हें अनोखे तरीके से श्रद्धांजलि दी. चेतन राउत नाम के इस समर्थक ने 33 हजार रुद्राक्ष की मदद से बाला साहेब की एक तस्वीर बनाई. राउत (Bal Thackeray's birth anniversary) ने इस तस्वीर को शिव सेना (Shiv Sena) भवन के बाहर लगाया है. राउत के बताया कि बाला साहेब ठाकरे (Bal Thackeray's birth anniversary) को रुद्राक्ष ज्यादा पसंद थे. इसलिए मैनें उनकी याद में यह तस्वीर सिर्फ और सिर्फ रुद्राक्ष के इस्तेमाल से ही  बनाई है. मैं 33 हजार रुद्राक्ष से बने इस तस्वीर के माध्यम से विश्व रिकॉर्ड भी बनाना चाहता था. बता दें कि बाला साहेब ठाकरे की जयंती (Bal Thackeray's birth anniversary) से एक दिन पहले महाराष्ट्र कैबिनेट ने मंगलवार को शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे के स्मारक के निर्माण के लिए 100 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया था. इसी स्मारक के लिए बीएमसी बुधवार को महापौर बंगला एमएमआरडीए को सौंपेगी. इस ऐलान के बाद बीजेपी और शिवसेना के बीच कई दिनों से चल रहे मनमुटाव में कमी आने की उम्मीद की जा रही है.

 


शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे की जयंती के ठीक एक दिन पहले मंगलवार को महाराष्ट्र की कैबिनेट ने उनके स्मारक को मंजूरी देते हुए 100 करोड़ रुपये की राशि देने का ऐलान किया था. सरकार ने बताया था कि इस स्मारक का निर्माण एमएमआरडीए की ओर से किया जाएगा और स्मारक का नाम बालासाहेब ठाकरे राष्ट्रीय स्मारक रखा जाएगा. बीजेपी को उम्मीद है कि इस ऐलान के बाद दोनों पार्टियों के बीच चल रही नोकझोंक में कमी आएगी.

 

 

शिवसेना की ओर से काफी दिनों से बालासाहेब ठाकरे का स्मारक बनाने के लिए मंजूरी लेने की बात चल रही थी. पार्टी ने यह पहले ही साफ कर दिया था कि स्मारक दादर के शिवाजी पार्क में स्थित महापौर निवास में ही बनाया जाएगा. अब इसके लिए उन्हें सारी मंजूरियां मिल गई हैं. हालांकि बीजेपी के साथ गठबंधन पर शिवसेना की ओर से अब भी कोई सीधा जवाब मिलता नहीं दिख रहा है.

शिवसेना के मंत्री भूले ठाकरे का स्मारक, उद्धव ठाकरे ने पिलाई डांट - सूत्र

इस बीच विपक्ष की ओर से यह आरोप लग रहा था कि केवल आने वाले चुनाव में अपनी कुर्सी को बचाने के लिए बीजेपी ने कैबिनेट में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी है. बाल ठाकरे की अगुवाई में ही शिवसेना और बीजेपी के बीच में गठबंधन की शुरुआत हुई थी. हालांकि पिछले साढ़े चार साल में दोनों पार्टियों के बीच तनाव का माहौल बना रहा है लेकिन इसके बावजूद शिवसेना ने सत्ता से खुद को अलग नहीं किया और अब यह उम्मीद की जा रही है कि कैबिनेट की ओर से हुए इस ऐलान के बाद दोनों पार्टियों के बीच रिश्ते एक बार फिर से सुधर सकते हैं.

VIDEO : मेमोरियल के निर्माण में देरी से उद्धव नाराज

टिप्पणियां

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement