कोरोना से जंग : महाराष्ट्र में अब सिर्फ दो ज़ोन होंगे, लॉकडाउन के दौरान मिलेंगी ये रियायतें

बारिश के मौसम को देखते हुए रेड जोन में भी मॉल, उद्योग और दुकानें सुबह 9 से 5 बजे तक खुली रखने की छूट दी गई है लेकिन सिर्फ मरम्मत और रखरखाव के लिए. कोई भी व्यापार करने की इजाजत नहीं होगी.

कोरोना से जंग : महाराष्ट्र में अब सिर्फ दो ज़ोन होंगे, लॉकडाउन के दौरान मिलेंगी ये रियायतें

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

लॉकडाउन के चौथे चरण में महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा बदलाव किया है. देशभर में बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों के बीच महाराष्ट्र सरकार ने तय किया है कि राज्य में अब सिर्फ दो ही जोन होंगे. ये जोन रेड जोन और नॉन रेड जोन होंगे. इसके पहले ग्रीन, ऑरेंज और रेड तीन जोन होते थे. कंटेन्मेंट जोन की प्रक्रिया पहले जैसी ही जारी रहेगी. ये आदेश 22 मई से लागू होगा. रेड जोन में बीएमसी सहित MMR के तहत आने वाले इलाके और दूसरी महानगर पालिकाएं जिसमें पुणे, सोलापुर, औरंगाबाद , मालेगांव, नाशिक, धुले, जलगांव , अकोला और अमरावती शामिल हैं. इसके अलावा दूसरे सभी इलाको को नॉन रेड जोन घोषित कर दिया गया है. 

बारिश के मौसम को देखते हुए रेड जोन में भी मॉल, उद्योग और दुकानें सुबह 9 से 5 बजे तक खुली रखने की छूट दी गई है लेकिन सिर्फ मरम्मत और रखरखाव के लिए. कोई भी व्यापार करने की इजाजत नहीं होगी. जबकि नॉन रेड जोन में बाजार  सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक खुले रह सकते हैं और व्यापार भी किया जा सकता है. रेड जोन में जरूरी और गैर जरूरी वस्तुओं के लिए ई कॉमर्स की इजाजत दी गई है.  साथ ही रेस्टोरेंट और किचन को होम डिलीवरी की इजाजत दी गई है. 

बता दें, कोविड-19 के कारण देश में बुधवार तक 3,303 लोगों की मौत हो गई और संक्रमण के मामले बढ़कर 1,06,750 पर पहुंच गए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बीते 24 घंटे में 140 संक्रमित व्यक्तियों की मौत हुई और संक्रमण के रिकॉर्ड 5,611 नए मामले सामने आए. मंत्रालय ने कहा कि देशभर में 61,149 संक्रमित व्यक्तियों का इलाज चल रहा है जबकि 42,297 लोग स्वस्थ हो चुके हैं तथा एक मरीज देश से बाहर चला गया.

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘इस लिहाज से अब तक 39.62 फीसदी मरीज ठीक हो चुके हैं.'' कुल संक्रमित व्यक्तियों में विदेशी मरीज भी शामिल हैं.

बीते 24 घंटे में जिन 140 मरीजों की मौत हुई है उनमें से 76 महाराष्ट्र में, 25 गुजरात में, छह-छह मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल में, पांच-पांच राजस्थान और उत्तर प्रदेश में, तीन-तीन तमिलनाडु, कर्नाटक और तेलंगाना में, दो-दो आंध्र प्रदेश, असम, जम्मू-कश्मीर में और एक-एक व्यक्ति की मौत ओडिशा तथा पंजाब में हुई है. देशभर में अब तक कुल 3,303 संक्रमित व्यक्तियों की मौत हो चुकी है जिनमें से सर्वाधिक 1,325 लोगों की जान महाराष्ट्र में गई, 719 लोगों की मौत गुजरात में हुई.

मध्य प्रदेश में 258 लोगों की, पश्चिम बंगाल में 250 की, दिल्ली में 168 की, राजस्थान में 143 लोगों की, उत्तर प्रदेश में 123 की, तमिलनाडु में 84 लोगों की और आंध्र प्रदेश में 52 लोगों की मौत संक्रमण के कारण हुई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कर्नाटक में मृतक संख्या 40 और पंजाब तथा तेलंगाना में 38-38 है. संक्रमण के कारण जम्मू-कश्मीर में 17 लोगों की जान जा चुकी है, हरियाणा में 14, बिहार में नौ तथा ओडिशा में पांच लोगों की मौत हो चुकी है. 

कोविड-19 के कारण केरल तथा असम में चार-चार मरीजों की मौत हुई. स्वास्थ्य मंत्रालय के डेटा के मुताबिक झारखंड, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में तीन-तीन मरीजों की मौत कोविड-19 के कारण हुई. मेघालय, उत्तराखंड, पुडुचेरी में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई.