NDTV Khabar

महाराष्ट्र के सतारा में नकली नोट छापने के आरोप में छह गिरफ्तार

पुलिस को मौके से 29.88 लाख रुपये के ऐसे नोट भी मिले हैं जिनकी एक ही तरफ की छपाई की गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र के सतारा में नकली नोट छापने के आरोप में छह गिरफ्तार

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: पश्चिमी महाराष्ट्र के सतारा में रंगीन फोटोकॉपी की मदद से दो हजार और पांच सौ रुपये के नकली नोट छापने के आरोप में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पुलिस की छापेमारी में उन्हें आरोपियों के पास से 26.54 लाख रुपये के नकली नोट बरामद हुए हैं. पुलिस को मौके से 29.88 लाख रुपये के ऐसे नोट भी मिले हैं जिनकी एक ही तरफ की छपाई की गई थी. पुलिस की जांच में पता चला है कि दो युवकों ने बुधवार को कटेश्वर मंदिर के पास नकली नोट को चलाने की कोशिश की थी. हालांकि बाद में दुकानदार की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया था.

यह भी पढ़ें: आठ लाख रुपये के नकली नोट पकड़े, एक गिरफ्तार

पुलिस ने जब इन दोनों युवकों से सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि उसके गिरोह के अन्य सदस्य बीते लंबे समय से नकली नोट बनाने का काम कर रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि छह गिरफ्तार लोगों में से एक व्यक्ति को कम्प्यूटर और प्रिटिंग की अच्छी जानकारी है और उसी ने इस गिरोह को कथित रूप से शुरू किया. गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने पिछले दिनों एक ऐसे ही गिरोह को गिरफ्तार किया था जो नकली नोट का कारोबार करता था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सीलमपुर मेट्रो स्टेशन के बाहर से एक शख्स को ग़िरफ़्तार कर उसके आस से 8 लाख के नकली नोट पकड़े हैं.

यह भी पढ़ें: नकली नोट चलाने के जुर्म में पांच लोगों को अदालत ने सुनाई सात साल की कैद

टिप्पणियां
पुलिस के मुताबिक उन्हें जानकारी मिली थी कि एक शख्स मालदा से नकली नोट लेकर दिल्ली में आने वाला है. इसी सूचना पर पुलिस ने सीलमपुर मेट्रो स्टेशन के बाहर बस स्टॉप पर घेराबंदी की और कमिल नाम के एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया. कमिल के बैग की तलाशी लेने पर 2000 रुपये के 8 लाख के नकली नोट मिले.कमिल ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वह शामली का रहने वाला है और वो पश्चिम बंगाल के मालदा से मर्ट्यूज़ नाम के एक शख्स ये नकली नोट लाया था. इसके बदले उसने ढाई लाख के असली नोट दिए थे.

VIDEO: एटीएम से निकला फर्जी नोट.

मर्ट्यूज़ के पास ये नकली करेंसी बांग्लादेश से आती है. कमिल ने बताया कि उसे ये नोट अपने एक साथी को देने थे जो गांधी नगर में रहता है. पुलिस अब उसके साथी की तलाश कर रही है. कमिल इसके पहले भी नकली नोटों की तस्करी के मामले में गिरफ्तार हो चुका है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement