आवासीय घोटाला मामला: शिवसेना के बड़े नेता को हुई सात साल की जेल, लगा 100 करोड़ रुपये का जुर्माना, पढ़िए क्या है पूरा मामला 

अदलात के अनुसार पूर्व मंत्री ने 'घरकुल' आवासीय योजना के तहत बड़ा घोटाला किया है. पूर्व मंत्री के अलावा अदालत ने जिस दूसरे आरोपी को पांच साल की सजा सुनाई है उसका नाम गुलाबराव देवकर है.

आवासीय घोटाला मामला: शिवसेना के बड़े नेता को हुई सात साल की जेल, लगा 100 करोड़ रुपये का जुर्माना, पढ़िए क्या है पूरा मामला 

शिव सेना के नेता दोषी करार

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के धुले की जिला अदालत ने पूर्व मंत्री सुरेश जैन समेत दो को आवासीय घोटाले का दोषी मानते हुए 100 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है साथ ही सात साल की जेल की सजा भी सुनाई है. अदलात के अनुसार पूर्व मंत्री ने 'घरकुल' आवासीय योजना के तहत बड़ा घोटाला किया है. पूर्व मंत्री के अलावा अदालत ने जिस दूसरे आरोपी को पांच साल की सजा सुनाई है उसका नाम गुलाबराव देवकर है. इस घोटाले में पूर्व मंत्री के अलावा नगर निगम और अन्य विभाग के भी अधिकारी शामिल बताए जा रहे हैं. 

आदर्श घोटाला : तिवारी ने दिया छुट्टी का आवेदन

बता दें कि शिव सेना के नेता सुरेश जैन को इस घोटाले को लेकर पहली बार मार्च 2012 में गिरफ्तार किया गया था. इन पर आरोप है कि 1990 में मंत्री रहते हुए उन्होंने आवासीय प्रोजेक्ट के नाम पर बड़े घोटाले कराए. इस आरोप के बाद आरोपी मंत्री को करीब साल भर जेल में रहना पड़ा था. इसके बाद उन्हें सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई थी. वहीं, मामले के दूसरे आरोपी गुलाबराव देवकर एनसीपी के नेता है और उन्हें भी इस मामले में मई 2012 में गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद वह तीन साल तक जेल में रहे. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com