पंकजा मुंडे ने कहा- 'मैं भाजपा नहीं छोड़ूंगी, BJP किसी एक की नहीं लेकिन पार्टी चाहे तो...'

पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) ने कहा कि यह पार्टी किसी एक की नहीं है. हमारे खून में गद्दारी नहीं है. मैं पार्टी नहीं छोड़ रही, अगर पार्टी चाहे तो कोई भी निर्णय ले सकती है.'

पंकजा मुंडे ने कहा- 'मैं भाजपा नहीं छोड़ूंगी, BJP किसी एक की नहीं लेकिन पार्टी चाहे तो...'

पंकजा मुंडे ने कहा, पार्टी चाहे तो मुझे निकाल सकती है.

खास बातें

  • पंकजा मुंडे ने कहा, वह अब बीजेपी कोर समिति की सदस्य नहीं
  • पंकजा ने अपने पिता की जयंती पर रैली का किया था आयोजन
  • पंकजा मुंडे ने कहा, पार्टी चाहे तो मुझ पर कोई निर्णय ले सकती है
मुंबई:

महाराष्ट्र बीजेपी में टकराव की स्थिति खुलकर सामने आ गई है. महाराष्ट्र के बीड जिले में दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की जयंती पर उनकी बेटी पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) ने इस रैली का आयोजन किया और बागी तेवर दिखाते हुए घोषणा की कि 27 जनवरी से हाथों में मशाल लेकर पूरे महाराष्ट्र का दौरा करेंगी. बीजेपी नेता पंकजा मुंडे ने कहा, 'मैं हाथ में मशाल लेकर पूरे महाराष्ट्र का दौरा करूंगी. मैं दोबारा संघर्ष यात्रा निकालूंगी और बताउंगी कि मैं क्या हूं. मराठवाड़ा के लिए अनशन पर बैठूंगी. शांत बैठी हूं तो यह मत समझना कि आग नहीं है.' उन्होंने कहा, 'मेरे पिता के जाने के बाद आज भी उनकी यादें आम लोगों के दिलों में हैं. मेरे अंदर भी उनका ही खून है, इसलिए मैं कभी पार्टी से बगावत नहीं कर सकती. यह पार्टी किसी एक की नहीं है. हमारे खून में गद्दारी नहीं है. मैं पार्टी नहीं छोड़ रही, अगर पार्टी चाहे तो कोई भी निर्णय ले सकती है.'

यह भी पढ़ें: औरंगाबाद में BJP की क्षेत्रीय बैठक में नहीं पहुंची पंकजा मुंडे, चंद्रकांत पाटिल ने कहा- ''वह अस्वस्थ हैं''

जिस मंच से पंकजा मुंडे गरज रही थीं उसी मंच पर पार्टी से नाराज़ चल रहे एकनाथ खड़से भी मौजूद थे, लेकिन पार्टी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के जनसभा में पहुंचने से माहौल कुछ बदला सा दिखा. बता दें कि राजनीतिक गलियारों में इस आयोजन को पंकजा का शक्ति प्रदर्शन भी कहा जा रहा है. पंकजा ने इशारों-इशारों में अपनी हार के लिए पार्टी के कुछ नेताओं पर जिम्मेदारी डाली, लेकिन पार्टी छोड़ने की खबरों पर जारी कयासों पर पूर्णविराम लगाया. 

महाराष्ट्र BJP में फूट? एकनाथ खड़से बोले- मेरी बेटी और पंकजा मुंडे को हराने का काम BJP के ही कुछ नेताओं ने किया

बता दें कि पंकजा मंगलवार को राज्य बीजेपी कोर समिति की बैठक में भी शामिल नहीं हुई और गुरुवार को उन्होंने घोषणा की कि वह अब कोर समिति की सदस्य नहीं हैं. अपने भाषण में पंकजा ने हालिया विधानसभा चुनाव में पर्ली सीट से अपने रिश्ते के भाई और राकांपा नेता धनंजय मुंडे से मिली हार का उल्लेख करते हुए कहा कि कुछ बीजेपी नेता (परोक्ष रूप से देवेंद्र फडणवीस के लिए) इस सीट से उनकी जीत नहीं चाहते थे. पंकजा ने कहा कि वह जनवरी में पूरे महाराष्ट्र में ''मशाल रैली'' निकालेंगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: पंकजा मुंडे के फेसबुक पोस्ट से उठे सवाल, कहा- भविष्य पर फैसले की जरूरत

(इनपुट: भाषा से भी)