NDTV Khabar

महाराष्ट्र : पंकजा मुंडे फिर विवादों में, पोषण आहार के ठेके देने में मनमानी का आरोप

आम आदमी पार्टी ने पोषण आहार बनाने के ठेके फर्जी स्व सहायता समूहों को देने का आरोप लगाया, पंकजा मुंडे ने कहा - ठेके सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दिए गए

2922 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र : पंकजा मुंडे फिर विवादों में, पोषण आहार के ठेके देने में मनमानी का आरोप

महाराष्ट्र की मंत्री पंकजा मुंडे पर पोषण आहार के ठेके फर्जी स्व सहायता समूहों को देने का आरोप लगाया गया है.

खास बातें

  1. एकात्मिक बाल विकास योजना के तहत पोषण आहार के ठेके देने का मामला
  2. तीन ऐसे समूहों को ठेके दिए जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने ब्लैक लिस्ट किया
  3. ठेके पाने वाले 15 स्व सहायता समूहों में से 12 अपात्र
मुंबई: बीजेपी नेता और महाराष्ट्र की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे के विभाग से जुड़े नए आरोप सामने आए हैं. आम आदमी पार्टी की सदस्य प्रीति शर्मा-मेनन ने एक संवाददाता सम्मेलन कर दावा किया है कि पंकजा ने नियम तोड़ मरोड़कर एकात्मिक बाल विकास योजना (ICDS) के तहत पोषण आहार बनाने के ठेके फर्जी स्व सहायता समूहों को दिए.

प्रीति शर्मा मेनन का आरोप है कि कुल 5439.40 करोड़ रुपये के ठेकों में से 4805.78 करोड़ रुपये के ठेके तीन ऐसे समूहों को दिए गए जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने ब्लैक लिस्ट किया है. जबकि, 633.50 करोड़ रुपये के ठेके जिन 15 समूहों को दिए गए उसमें से 12 अपात्र हैं. न्यायालय के आदेशानुसार ठेके केवल महिला संचालित स्व सहायता समूह को ही दिए जाने चाहिए. इसके बावजूद जिन्हें ठेके मिले हैं वहां महिलाओं का केवल नाम है, असली ताकत पुरुषों के हाथ में है. प्रीति शर्मा मेनन की मांग है कि ठेकों में ऐसी धांधली करने के बाद पंकजा मुंडे मंत्री पद पर बने रहने के योग्य नहीं हैं.

ज्ञात हो कि पंकजा मुंडे इस प्रकार के आरोप इससे पहले भी झेल चुकी हैं जिसे चिकी घोटाले के नाम से जाना गया है. इस बार उनका जवाब फौरन तैयार है. आम आदमी पार्टी के आरोपों के जवाब में पंकजा मुंडे कहती हैं कि ठेके सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दिए गए हैं और यह आदेश पाने के लिए वे खुद कोर्ट में गई थीं. उनका यह भी कहना है कि इसके बावजूद अगर कहीं गलत फैसले हुए हैं तो वे उन्हें सुधार देंगी.

वैसे इस बीच आम आदमी पार्टी ने सबूत समेत दावा किया है कि ठेकों के बदले में महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष रावसाहब दानवे को 5 लाख रुपये दिए गए. आप की सदस्य प्रीति शर्मा-मेनन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोरेश्वर बचत गुट के बैंक एकाउंट की वह एंट्री दिखाई जहां आरडी दानवे के नाम से 5 लाख रुपये चेक द्वारा दिए गए हैं. इस मामले पर दानवे की तरफ से अभी तक सफाई नहीं दी गई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement