महाराष्ट्र से करीब 2,965 लड़कियां हो चुकी हैं लापता, पुलिस के पास नहीं है कोई ठोस सुराग

एक सवाल के लिखित जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि सास 2016 में एक जनवरी से 30 जून के बीच 2,881 लड़कियां लापता हुई थीं.

महाराष्ट्र  से करीब 2,965 लड़कियां हो चुकी हैं लापता, पुलिस के पास नहीं है कोई ठोस सुराग

फाइल फोटो

मुंबई:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने आज बताया कि इस साल के शुरुआती छह महीनों में प्रदेश से करीब 2,965 लड़कियां लापता हो गई हैं. प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के विधायक रंधीर सावरकर द्वारा राज्य विधानसभा में पटल पर रखे गए एक सवाल के लिखित जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि सास 2016 में एक जनवरी से 30 जून के बीच 2,881 लड़कियां लापता हुई थीं. इस साल इस अवधि में यह संख्या बढ़कर 2,965 हो गई है.

अगले 10 साल में मुंबई शहर में लोगों को मिल सकते हैं 16,000 सस्‍ते घर...

उन्होंने कहा, “इस संबंध में किसी खास गिरोह के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है. करीब 12 पुलिस विभागों को ऐसी गतिविधियों के खिलाफ फौरन कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं.” फडणवीस के मुताबिक केंद्र सरकार ने लापता लड़कियों का पता लगाने के लिए केंद्र सरकार ने   www.trackthemissingchild.gov.in   वेबसाइट बनाई है.

वीडियो : साल 2012 में भी गायब हुई थीं कई लड़कियां

अपने उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा, “रेलवे ने भी इस काम के लिए अपने पोर्टल www.shodh.gov.inको अधुनिक बना रहा है. ये वेबसाइट मामलों का पता लगाने में मददगार रही हैं.” उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने ऑपरेशन मुस्कान और ऑपरेशन स्माइल जैसे चार अभियान शुरू किए हैं. इसके माध्यम से साल 2016 में एक जनवरी से 30 जून के बीच 1,613 लड़कियों का पता लगाया गया था. इनकी मदद से इस साल भी 645 लड़कियों की खोज की जा चुकी हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इनपुट : भाषा