NDTV Khabar

किसान मार्च: खत्म हुआ किसान आंदोलन, सरकार ने सभी मांगें पूरी करने का भरोसा दिलाया

सरकार द्वारा सभी मांगें मानने का भरोसा दिए जाने के बाद मुंबई में किसानों ने अपना आंदोलन (Maharashtra farmers' protest) वापस ले लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
किसान मार्च: खत्म हुआ किसान आंदोलन, सरकार ने सभी मांगें पूरी करने का भरोसा दिलाया

Maharashtra farmers march: मुंबई में खत्म हुआ किसान आंदोलन.

मुंबई:

सरकार द्वारा मांगें मानने का भरोसा दिए जाने के बाद मुंबई में किसानों ने अपना आंदोलन (Maharashtra farmers' protest) वापस ले लिया है. गुरुवार शाम को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानभवन में किसान नेताओं से मुलाकात की और उनकी सभी मांगे मानने का भरोसा दिलाया. इसके बाद किसानों ने अपना आंदोलन खत्म कर दिया. बता दें कि महाराष्ट्र के करीब 20 हज़ार किसान अपनी मांगों को लेकर मुंबई के आजाद मैदान पहुंचे थे. दरअसल, सूखे के लिये मुआवजे और आदिवासियों को वन्य अधिकार सौंपे जाने की मांग को लेकर हजारों किसान एवं आदिवासियों ने बुधवार को ठाणे से मुंबई तक दो दिवसीय मार्च शुरू किया था. स्वराज अभियान के मुखिया और आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता योगेंद्र यादव और संरक्षणवादी डॉ राजेंद्र सिंह इस किसान मार्च का नेतृत्व कर रहे थे. दरअसल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और पंजाब में बीते 6 महीने से लगातार अपनी मांगों को लेकर और सरकार के खिलाफ किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. 

एक बार फिर सड़कों पर उतरे अन्नदाता, ठाणे से मुंबई तक मार्च कर रहे 20 हजार किसान


Maharashtra farmers' protest LIVE Updates:


- सरकार द्वारा मांगें मानने का भरोसा दिए जाने के बाद मुंबई में किसानों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है. गुरुवार शाम को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानभवन में किसान नेताओं से मुलाकात की और उनकी सभी मांगे मानने का भरोसा दिलाया. इसके बाद किसानों ने अपना आंदोलन खत्म कर दिया. 

-महाराष्ट्र के ठाणे से चला किसानों का लांग मार्च मुंबई के आज़ाद मैदान पहुंच गया है. बड़ी संख्या में किसान सरकार के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करते हुए आए. सुरक्षा के मद्देनज़र भारी संख्या में पुलिस तैनात की गई है. 

किसान नेता और लोकसंघर्ष मोर्चा संचालक प्रतिभा शिंदे के मुताबिक अगर सरकार ने हमारी मांगें पूरी नहीं की तो वो धरना प्रदर्शन जारी रखेगे और ज़रूरत पड़ी तो जेल भरो आंदोलन भी करेंगे. ये किसान स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने के साथ ही MSP पर कानून लाने जैसी कई मांगे कर रहे हैं. 
- किसानों का मार्च मुंबई पहुंच गया है और किसान आजाद मैदान में जुट गए हैं. किसान सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. 

- किसान मोर्चा अब भायखला तक पहुंच चुका है. मोर्चे की संचालक प्रतिभा शिंदे ने बताया कि 12 बजे एक प्रतिनिधिमंडल सरकार से बात करने जयेगा. आगे की दिशा उसके बाद ही तय होगी. 

- मुंबईः किसानों और आदिवासियों का लोक संघर्ष मोर्चा दादर पहुंचा. आजाद मैदान की ओर बढ़ रहा है मोर्चा.


-किसानों के इस जनआंदोलन को देखते हुए मुंबई पुलिस भी सतर्कता बरत रही है और सुबह के समय 9-10 बजे के दौरान ट्रैफिक की समस्या को लेकर लोगों को आगाह किया है. -अपनी मांगों को लेकर बुधवार को चूनाभट्टी पहुंचे किसान सुबह 4:30 बजे ही आज़ाद मैदान के लिए निकल गये. 
मोर्चे में पुरुष- महिला, बुज़ुर्ग और बच्चे भी शामिल हैं. बड़ी संख्या में किसान सरकार के खिलाफ नारे बाज़ी करते हुए आज़ाद मैदान की और बढ़ रहे हैं. 

-किसान मार्च को देखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल को मोर्चे के साथ तैनात किया गया है.

किसानों से किए गए वादे कितने पूरे होते हैं?

दरअसल, इन हजारों किसानों की इस मार्च के माध्यम से मांग है कि खेतिहर मजदूरों की जंगल की जमीनें दी जाएं. साथ ही, सूखा प्रभावित इलाकों में सही ढंग से राहत पहुंचे. किसानों का कहना है कि पिछले प्रदर्शन को कई महीनें हो गए, मगर अब तक एक भी आश्वासन पर काम नहीं हुआ. 

उत्तर प्रदेश : अफसरशाही मस्ती में, बांदा में किसान 24 घंटे से धरने पर

किसान मार्च को देखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल को मोर्चे के साथ तैनात किया गया है. उम्मीद की जा रही है कि ये मोर्चा सुबह 10 बजे तक आज़ाद मैदान पहुंच जाएगा, किसान नेता और लोकसंघर्ष मोर्चा संचालक प्रतिभा शिंदे के मुताबिक अगर सरकार ने हमारी मांगे पूरी नही की तो हम धरना प्रदर्शन करेंगे और ज़रूरत पड़ी तो जेल भरो आंदोलन भी करेंगे. 

गुजरात : CM विजय रूपाणी के कार्यक्रम में दुखी किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, जानें वजह...

टिप्पणियां

बता दें कि करीब 6 महीने पहले भी अपनी मांगों को लेकर किसानों ने मोर्चा निकाला था. तब  सरकार ने उनकी मांगे मानते हुए क्रियान्वयन के लिए 6 महीने का वक़्त मांग था. लेकिन फिर उसके बाद कुछ नही किया. आज 12 बजे किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल सरकार से मिल सकता है. 

 VIDEO: हजारों किसानों का मुंबई कूच



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement