महाराष्ट्र: सरकार में बनी रहेगी शिवसेना, 'जनहित' का हवाला देकर सत्ता में बने रहने का ऐलान 

शिवसेना ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि वह जनहित की रक्षा के लिए सरकार में बनी रहेगी.

महाराष्ट्र: सरकार में बनी रहेगी शिवसेना, 'जनहित' का हवाला देकर सत्ता में बने रहने का ऐलान 

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पार्टी ने मुखपत्र 'सामना' में किया ऐलान
  • लंबे समय से चल रही अनिश्चितता पर लगाया विराम
  • फड़णवीस सरकार में शिवसेना के 12 मंत्री हैं
मुंबई :

शिवसेना ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि वह जनहित की रक्षा के लिए सरकार में बनी रहेगी. पार्टी ने मुखपत्र 'सामना' में शनिवार को कहा कि 'जनता के हितों की रक्षा के लिए सत्ता में बनी रहेगी'.

यह भी पढ़ें : बीजेपी का साथ छोड़ देगी शिवसेना? शिवसेना बोली - गठबंधन पर जल्द लेंगे फैसला

भाजपा के साथ शिवसेना के तल्ख रिश्तों में तब और तनाव आ गया था जब उसके सांसद संजय राउत ने हाल में कहा कि उनकी पार्टी जल्द ही फैसला करेगी कि उसे महाराष्ट्र में फड़णवीस नीत गठबंधन सरकार में रहना है या नहीं. बहरहाल, पार्टी ने मुखपत्र 'सामना' में आज के संपादकीय में कहा गया है कि 'जब विधानसभा चुनाव दो साल बाद होने जा रहे हैं तो पार्टी गठबंधन नहीं तोड़ेगी और जनता के हितों की रक्षा के लिए सत्ता में बनी रहेगी'. फड़णवीस सरकार में 39 सदस्यीय मंत्रिमंडल में शिवसेना के 12 मंत्री हैं. इनमें पांच कैबिनेट स्तर के हैं.

यह भी पढ़ें : बीजेपी-शिवसेना गठबंधन गहरे संकट में, दशहरा तक कोई फैसला ले सकते हैं उद्धव : सूत्र

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

केंद्र में राजग सरकार में शिवसेना का एक मंत्री है. शिवसेना मुखपत्र ने एल्फिंस्टन रोड ओवरब्रिज हादसे पर मोदी सरकार पर तीखा हमला किया और आरोप लगाया कि उसकी बेरुखी के चलते ही यह हादसा हुआ. 

VIDEO:  दशहरा तक कोई फ़ैसला ले सकते हैं उद्धव ठाकरे: सूत्र

शिवसेना ने बुलेट ट्रेन परियोजना की भी तीखी आलोचना की और कहा, 'जब आप लोकल ट्रेन के यात्रियों को बुनियादी ढांचा प्रदान नहीं कर सकते तो बुलेट ट्रेन का क्या उपयोग.'