Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

IPL स्पॉट फिक्सिंग सहित कई बड़े केस सुलझाने वाले महाराष्ट्र पुलिस के एडीजी हिमांशु रॉय ने की खुदकुशी

हिमांशु राय ने कई बड़े केसों का खुलासा किया था. अंडरवर्ल्ड सरग़ना दाऊद इब्राहीम के भाई इकबाल कासकर के ड्राइवर आरिफ बेल पर हुई फायरिंग का मामला, पत्रकार जेडे हत्याकांड कांड को हल किया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL स्पॉट फिक्सिंग सहित कई बड़े केस सुलझाने वाले महाराष्ट्र पुलिस के एडीजी हिमांशु रॉय ने की खुदकुशी

खास बातें

  1. कई बड़े केसों का खुलासा किया था
  2. घर में खुद को मारी गोली
  3. मेडिकल लीव पर थे हिमांशु रॉय
मुंबई:

महाराष्ट्र पुलिस के एडीजी रैंक के तेज-तर्रार अफसर हिमाशु रॉय ने खुदकुशी कर ली है. बताया जा रहा है उन्होंने अपने घर में खुद को गोली मार ली है. वह काफी समय से बीमार चल रहे थे. हालांकि उनके इस कदम के पीछे क्या वजह थी ये पूरी तरह से पता नहीं चल पाया है. पुलिस ने बताया कि रॉय ने अपने आवास पर अपनी सर्विस रिवाल्वर से कथित तौर पर खुद को गोली मार ली. उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

हिमांशु रॉय मुंबई पुलिस में संयुक्त पुलिस कमिश्नर और महाराष्ट्र एटीएस चीफ की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं. वह 2012-2014 के दौरान संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) थे. उन्होंने आईपीएल सट्टेबाजी कांड की जांच का नेतृत्व भी किया था.

इसके बाद उनका तबादला एटीएस में हो गया. आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) का प्रमुख रहने के दौरान उन्होंने बांद्रा कुर्ला इलाके में एक अमेरिकी स्कूल को विस्फोट कर उड़ाने की कथित साजिश रचने को लेकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर अनीस अंसारी को गिरफ्तार किया था.


वह कई अहम मामलों को सुलझाने में शामिल रहे थे. इनमें पत्रकार जे डे, अदाकारा लैला खान और कानून स्नातक पल्लवी पुरकायस्थ की हत्या के मामले शामिल थे.

वह 26/11 मुंबई हमलों से पहले रेकी करने में संलिप्त रहे लश्कर ए तैयबा के आतंकी डेविड हेडली से जुड़े सुराग हासिल करने वाली टीम में भी शामिल रहे थे. उन्होंने आईपीएल सट्टेबाजी कांड की जांच का नेतृत्व भी किया था.

टिप्पणियां

इसके बाद उनका तबादला एटीएस में हो गया. आतंकवाद रोधी दस्ते का प्रमुख रहने के दौरान बांद्रा कुर्ला इलाके में एक अमेरिकी स्कूल को विस्फोट से उड़ाने की कथित साजिश रचने को लेकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर अनीस अंसारी को उन्होंने गिरफ्तार किया था.

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त एमएन सिंह ने उन्हें बहादुर और कड़ी मेहनत करने वाला अधिकारी बताया. सिंह ने अपनी संवेदना जाहिर करने के लिए रॉय के परिवार से मिलने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘वह कैंसर से ग्रसित थे लेकिन वह इससे लड़ रहे थे. यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि उन्हें इस तरह से अपना जीवन खत्म करना पड़ा.’’



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... क्रिकेट मैच में विकेटकीपर बना डॉगी, बिजली की रफ्तार से गेंद पर यूं लपका, एक्ट्रेस ने शेयर किया Video

Advertisement