आरक्षण की मांग पूरी नहीं होने पर मराठा मोर्चा का आज महाराष्ट्र बंद

महाराष्ट्र के सीएम फडणवीस ने विधानसभा में कहा है कि यदि बंबई उच्च न्यायालय मराठा समुदाय के लिए आरक्षण की अनुमति देता है तो प्रदेश में रिक्त 72 हजार पदों को भरते वक्त 16 प्रतिशत पद समुदाय के लोगों के लिए आरक्षित किए जाएंगे.  

आरक्षण की मांग पूरी नहीं होने पर मराठा मोर्चा का आज महाराष्ट्र बंद

महाराष्ट्र के सीएम ने विधानसभा में आरक्षण देने का वादा किया है

खास बातें

  • महाराष्ट्र में आज मराठा मोर्चा का बंद
  • मुंबई, सतारा, सोलापुर और पुणे में बंद नहीं
  • सीएम ने की शांति की अपील
मुंबई:

आरक्षण की मांग पूरी नहीं होने से नाराज मराठा मोर्चा ने आज महाराष्ट्र बंद की घोषणा की है. लेकिन आज के बंद में मुंबई, सातारा, सोलापुर और पुणे को शामिल नहीं किया गया है. ऐसा पंढरपुर से दर्शन कर लौट रहे भक्तों (वारकरी) को मुंबई वापस लौटने देने के लिए किया गया है. मराठा मूक मोर्चा के समन्वयक वीरेंद्र पवार के मुताबिक मुंबई में बुधवार को बंद किया जा सकता है. कल औरंगाबाद में जलसमाधि आंदोलन में आंदोलनकारी काका साहेब शिंदे की मौत के बाद आंदोलन तेज कर दिया गया है.  इस बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने युवक की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये परिवार को मदद का भरोसा दिया है साथ ही लोगों से हिंसा नहीं करने की अपील की है. 

महाराष्ट्र में फैले दलित-सवर्ण तनाव की असली कहानी, 10 खास बातें...

इससे पहले मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को घेरने की तैयारी करने की योजना बना रहे मराठा क्रांति मोर्चा के कम से कम 20 सदस्यों को एहतियाती तौर पर हिरासत में लिया गया है.  ये उस समारोह स्थल की ओर बढ़ रहे थे जहां आज मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस पहुंचने वाले थे. फडणवीस सोमवार को पुणे के चिंचवड इलाके में ‘ क्रांतिवीर चापेकर राष्ट्रीय संग्रहालय ’ के  भूमि पूजन  सहित कई समारोह में शिरकत करने जा रहे थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

महाराष्ट्र में फिर से ज़ोर पकड़ता नज़र आ रहा है मराठा आरक्षण का मुद्दा​

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में कहा है कि यदि बंबई उच्च न्यायालय मराठा समुदाय के लिए आरक्षण की अनुमति देता है तो प्रदेश में रिक्त 72 हजार पदों को भरते वक्त 16 प्रतिशत पद समुदाय के लोगों के लिए आरक्षित किए जाएंगे.