NDTV Khabar

आरक्षण की मांग कर रहे मराठा मोर्चा ने मुंबई बंद वापस लिया, हिंसा में तीन पुलिसकर्मी घायल
पढ़ें | Read IN

आरक्षण की मांग को लेकर मराठा आंदोलन ने फिर तेज़ी पकड़ ली है. मराठा मोर्चा ने आज मुंबई बंद बुलाया था, जिसे अब वापस ले लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आरक्षण की मांग कर रहे मराठा मोर्चा ने मुंबई बंद वापस लिया, हिंसा में तीन पुलिसकर्मी घायल

आरक्षण की मांग को लेकर मराठा आंदोलन ने फिर तेज़ी पकड़ ली है.

खास बातें

  1. मराठा मोर्चा ने आज मुंबई बंद बुलाया है.
  2. ठाणे, नवी मुंबई, पालघर और रायगढ़ भी बंद रहेगा
  3. मराठा मोर्चा का कहना है कि बंद के दौरान ज़रूरी सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी
मुंबई: आरक्षण की मांग को लेकर मराठा आंदोलन ने फिर तेज़ी पकड़ ली है. आरक्षण के समर्थन में मराठा समुदाय के बंद में बुधवार को हिंसा फैल गई और प्रदर्शनकारियों ने नवी मुंबई तथा सतारा जिले में पुलिसकर्मियों पर पत्थर फेंके जिससे तीन जवान घायल हो गये. इस बीच, नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण के समर्थन में आंदोलन का नेतृत्व कर रहे ‘मराठा क्रांति मोर्चा’ ने मुंबई बंद वापस ले लिया. मुंबई में सुबह शुरू हुआ बंद विभिन्न भागों में हिंसा होने के बाद अपराह्न तीन बजे से पहले वापस ले लिया गया. मोर्चे के नेता वीरेंद्र पवार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम केवल यह साबित करना चाहते थे कि हम एकसाथ हैं और हमने इसे साबित भी कर दिया. हम प्रदर्शनों को हिंसक बनते हुए नहीं देखना चाहते और इसलिए, हम आज के लिए मुंबई में अपना बंद वापस ले रहे हैं.’’ इस मोर्चे के एक अन्य नेता ने कहा कि नौ अगस्त को एक बार फिर बंद का आह्वान किया जा सकता है लेकिन इस संबंध में अंतिम फैसला सभी मराठा संगठनों के वरिष्ठ सदस्यों से सलाह मशविरा करने के बाद किया जाएगा.

वहीं, एक अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया, प्लास्टिक की गोलियां चलाईं तथा आंसू गैस के गोले छोड़े. उन्होंने कहा कि सतारा के पुलिस अधीक्षक संदीप पाटिल को मामूली चोटें आई हैं तथा नवी मुंबई के कलंबोली में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए. उन्होंने कहा कि कलंबोली में एकत्रित प्रदर्शनकारियों ने मुंबई - गोवा और मुंबई - पुणे राजमार्गों को अवरुद्ध कर दिया. मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें हटाने का प्रयास किया क्योंकि प्रदर्शन के कारण यातायात रुक गया था. अधिकारी ने कहा कि इसके बाद भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों पर पथराव शुरू कर दिया जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हो गये. उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने क्षेत्र में दो पुलिस वाहनों को आग भी लगा दी. अधिकारी ने कहा कि इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया, उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े और हवा में प्लास्टिक की गोलियां भी चलाईं. उन्होंने कहा कि मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया और क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति है.

अधिकारी ने कहा कि वाशी, खारघर, कलंबोली और पलासपे में प्रदर्शनों के कारण मुंबई से पुणे और गोवा जाने वाले वाहनों का आवागमन प्रभावित हुआ. पुलिस अधीक्षक संदीप पाटिल ने कहा कि सतारा जिले में, पुलिस ने बॉम्बे रेस्टोरेंट चौक पर मुंबई-बेंगलूरू राजमार्ग अवरुद्ध करने और पुलिस पर पथराव करने वाले प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया. पथराव में घायल पाटिल ने कहा कि आरक्षण समर्थक प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले भी छोड़े गये. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि सतारा में नाराज प्रदर्शनकारियों ने कुछ वाहनों में भी आग लगा दी. इस बीच, ठाणे और वाशी के बीच लोकल ट्रेन सेवाएं दोपहर के समय एक घंटे से अधिक समय तक प्रभावित रहीं क्योंकि घनसोली स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनें रोक दीं. प्रदर्शनकारियों ने रायगढ़ जिले में पनवेल के पलास्पे के पास भी मुंबई-गोवा राजमार्ग अवरुद्ध कर दिया.

मराठा आरक्षण आंदोलन हुआ हिंसक: एक मौत के बाद भड़की हिंसा, कई हाईवे बंद और गाड़ियों में भी लगाई आग


मराठा आरक्षण आंदोलन के LIVE UPDATES


- आरक्षण की मांग कर रहे मराठा मोर्चा में मुंबई बंद वापस लिया. लोग घर लौट सके इसके लिए बंद लिया वापस ले लिय है. मगर नवी मुंबई और ठाणे में बंद जारी रहेगा. 

- मोदी सरकार में मंत्री और रिपल्बिकन पार्टी के नेता रामदास अठावले ने कहा कि मैं मराठा आरक्षण की मांग का समर्थन करता हूं. मैं प्रदर्शनकारियों से शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील करता हूं. हमें संसद में एक कानून बनाने की जरूरत है और आरक्षण को 50 फीसदी से 75 फीसदी तक बढ़ाने की जरूरत है. हम इस मुद्दे को एनडीए के समक्ष उठाएंगे. - नासिक में कई जगह जबरदस्ती दुकान बंद कराई गई. बंद का असर नासिक रोड, शालीमार, सातपूर में ज्‍यादा असर

- महाराष्ट्र अकोला में मराठा क्रांति मोर्चा कार्यकर्ताओं द्वारा मुंबई कोलकाता नेशनल हाईवे नंबर 6 टायर जलाकर आंदोलन किया. टायर जलाने के बाद आंदोलनकारी वहां से निकल गए इसके वजह से हाईवे की यातायात काफी देर तक ठप रहा. पुलिस को घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने जले टायर को रास्ते के हटाया और यातायात को फिर से शुरू कर दिया. वहीं मराठी क्रांति मोर्चा द्वारा अकोला शहर में हजारों की संख्या में बाइक रैली निकाली और सभी दुकानदारों को बंद रखने का आव्हान किया.

- मराठा मोर्चा के आंदोलनकारियों ने नालासोपारा ईस्ट वेस्ट का ब्रिज जाम किया. नारेबाजी कर रहे है आंदोलनकारियों ने 30 मिनट से लेकर 1 घंटे ब्रिज बंद किया.  लगभग 500 से ज्यादा आंदोलन जारी मौजूद रहे. 

- मुंबई में जगह-जगह रास्ता रोककर सड़क बंद करने की कोशिश की गई. वहीं चेम्बूर के घाटला विलेज में मराठा कार्यकर्ताओ ने घूम घूम कर दुकाने बंद करवाई.

- मराठा समाज आंदोलन का असर गोराई बोरीवली पश्चिम में देखने को मिला. वहां की जनता अपने काम पर जाने के लिए काफी परेशान नजर आई. आवागन के साधन उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं. आंदोलन को रोकने के लिए पुलिस स्टेशन में मराठा समाज के लोगों को पुलिस वैन में ले गई है. 

- मराठा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने ठाणे में बसों की आवाजाही को रोक दी है जिसके कारण बस स्टॉप पर भीड़ बढ़ गई है. 

- मराठा आरक्षण आंदोलन: दुकान बंद कराने के दौरान महाराष्ट्र के लातूर में दो समूहों के बीच झड़प की खबर है. बताया जा रहा है कि जब मराठा आंदोलन के समर्थक जब जबरन दुकान बंद कराने गये तभी यह घटना घटी.
 
- आंदोलनकारियों ने ठाणे में ट्रेन रोकी

 
-  ठाणे में आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगों ने टायरों में लगाई आग
 
- ठाणे में प्रदर्शकारियों ने जबरदस्ती दुकानें बंद करवाईं
 
-  मराठा क्रांति मोर्चा के नेता ने कहा कि हम किसी रोड को ब्लॉक नहीं कर रहे हैं. हम एक शांतिपूर्ण विरोध कर रहे हैं और हमने अपने कार्यकर्ताओं को कहा है कि हमारे विरोध के कारण किसी को असुविधा न हो. 
- ठाणे में आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शकारियों ने एक बस में की तोड़फोड़ 
एक अन्य अधिकारी ने बताया कि ठाणे शहर के माजिवाड़ा में कुछ आंदोलनकारियों ने टायर जलाए और ऑटो रिक्शा चालकों ने नितिन जंक्शन पर प्रदर्शन किया. मुंबई में, जोगेश्वरी फ्लाईओवर और कांदीवली के पास प्रदर्शन के कारण वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर भारी ट्रैफिक जाम रहा. उधर, औरंगाबाद में मंगलवार को आरक्षण के समर्थन में आंदोलन के दौरान जहर पीने वाले जगन्नाथ सोनावाने (55) की आज एक अस्पताल में मौत हो गई. औरंगाबाद पुलिस अधीक्षक आरती सिंह ने दावा किया कि सोनावाने ने घर की कलह के कारण खुदकुशी की और वह प्रदर्शन में शामिल नहीं था. मराठा क्रांति मोर्चे ने बंद का आह्वान कर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से यह आरोप लगाने के लिए माफी की मांग की है कि समुदाय के कुछ सदस्य सोलापुर जिले के पंढरपुर में हिंसा की योजना बना रहे हैं. राज्य की करीब 30 प्रतिशत जनसंख्या वाले राजनीतिक रूप से प्रभावशाली समुदाय मराठा के लिए आरक्षण एक बड़ा मुद्दा रहा है.

शिवसेना ने BJP को बताया ‘पागल हत्यारा’, कहा- रास्ते में आने वालों को खंजर मार रही है

मंगलवार को बंद का सबसे ज़्यादा असर औरंगाबाद ज़िले में दिखा. यहां आरक्षण समर्थक एक युवक ने ख़ुदकुशी की कोशिश की, जिसमें वो बुरी तरह से ज़ख़्मी हुआ है. उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. आंदोलनाकारियों ने यहां कई गाड़ियों में तोड़-फोड़ की और सिर मुंडाकर अपना विरोध जताया.

महाराष्ट्र में फैले दलित-सवर्ण तनाव की असली कहानी, 10 खास बातें...

टिप्पणियां
मराठा समाज का आरोप है कि पिछले साल के मूक आंदोलन के बाद राज्य सरकार ने साल भर में अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया. उलटे गैर जिम्मेदार बयानबाजी कर हमारी भावनाओं से खिलवाड़ किया है. मराठा मोर्चा आरक्षण की मांग है कि आरक्षण का भरोसा पूरा हो. सरकारी नौकरियों, शिक्षण संस्थानों में आरक्षण लागू हो, ताक़ि मराठा समाज आगे बढ़ सकें. महाराष्ट्र में सबसे ज़्यादा किसान मराठा हैं, ऐसे में मराठा मोर्चा स्वामीनाथन आयोग की सिफ़ारिशें लागू करने की मांग कर रहा है. साथ ही SC-ST ऐक्ट में बदलाव की मांग कर रहे हैं.

VIDEO: मराठा आरक्षण की आग

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement