मुंबई : हर साल करोड़ों का खर्चा फिर भी सड़कों पर गड्ढे ही गड्ढे, BMC-पीडब्ल्यूडी ने एक-दूसरे पर फोड़ा ठीकरा

पॉटहोल दादा के नाम से पहचाने जाने वाले दादासाहेब बिल्होरे ने 16 साल के अपने बेटे को गड्ढों के वजह से हुए एक्सीडेंट में खो दिया.

मुंबई : हर साल करोड़ों का खर्चा फिर भी सड़कों पर गड्ढे ही गड्ढे, BMC-पीडब्ल्यूडी ने एक-दूसरे पर फोड़ा ठीकरा

करोड़ो रुपये खर्च होने के बावजूद सड़कों का बुरा हाल (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई:

मानसून (Monsoon) की शुरुआत होने के बाद से ही मुंबई (Mumbai) की सड़कों पर गड्ढे नज़र आने लगे हैं. हर साल करोड़ों रूपये खर्च करने के बाद भी परेशानी बरकरार है. PWD विभाग के अंतर्गत आने वाले आरे के रोड नंबर 5 को महज़ 2 महीने पहले ठीक किया गया था लेकिन अब भी सड़कों पर गड्ढे मौजूद हैं. इस सड़क पर करीब 1 करोड़ से ज़्यादा की रकम खर्च की जा चुकी है, स्थानीय लोग कई बार शिकायत भी कर चुके हैं, पर हुआ कुछ नहीं. इस इलाके में रहने वाले अख्तर अंसारी ने कहा कि हमने इन सड़कों के लिए कई बार चिट्ठी लिखा है, हम चाहते हैं इसे कॉन्क्रीट किया जाए लेकिन कोई सुनता ही नहीं है. 

वहीं, पॉटहोल दादा के नाम से पहचाने जाने वाले दादासाहेब बिल्होरे ने 16 साल के अपने बेटे को गड्ढों के वजह से हुए एक्सीडेंट में खो दिया. तबसे वो खुद इस तरह के गड्ढों को भरने का काम कर रहे हैं. केवल वो ही नहीं और भी लोगों ने अपनों को गड्ढों के वजह से खोया है. 

दादासाहेब बिल्होरे ने कहा कि अपना बेटा खोने के बाद जब हमने काम शुरू किया तो मुझे लगा कि सभी प्रशासन के लोग जाग जाएंगे और 2 महीने में ही सड़क के हालात इस तरह हो गए हैं. 

रमेश जायसवाल ने बताया कि मेरी मौसी बहुत सीरियस थी, उन्हें अस्पताल ले जाना था. रात को 9 बजे निकलने पर भी 10 मिनट के सफर के लिए मुझे डेढ़ घंटा लगा जिसके वजह से वो गुज़र गईं.

केवल PWD ही नहीं बल्कि बीएमसी के अंतर्गत आने वाले सड़कों की हालत खराब है. सायन के प्रतीक्षा नगर में हर साल इसी तरह के गड्ढे नज़र आते हैं. सड़कों की मरम्मत के लिए बीएमसी ने 2017 से 2019 के बीच 15 करोड़ रुपये खर्च किये हैं और ज़मीनी स्तर पर इसका असर नहीं दिख रहा. विपक्ष बीएमसी को इसके लिए ज़िम्मेदार बता रहा है. 

Newsbeep

बीजेपी पार्षद विनोद मिश्रा ने कहा कि चाहे बीएमसी हो, MMRDA हो या PWD सभी के सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे हैं और बहुत बड़े पैमाने में भ्रष्टाचार हुआ है. वहीं, प्रशासन से गड्ढों पर सवाल पूछे जाने पर बीएमसी इसके लिए PWD विभाग को ज़िम्मेदार ठहराती है और PWD बीएमसी को जिम्मेदार बताता है. 

वीडियो: PWD विभाग की खुली पोल, दो महीने पहले बनी सड़क में गड्ढे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com