NDTV Khabar

मुंबई भगदड़ की घटना को लेकर हाई कोर्ट ने रेलवे और एनआईए को जारी किया नोटिस

बंबई उच्च न्यायालय ने इस घटना की राष्ट्रीय जांच एजेंसी से जांच कराने की मांग को लेकर दायर जनहित याचिका पर एजेंसी और पश्चिम रेलवे को गुरुवार को नोटिस जारी किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई भगदड़ की घटना को लेकर हाई कोर्ट ने रेलवे और एनआईए को जारी किया नोटिस

बंबई उच्च न्यायालय(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 29 सितंबर को हुए हादसे में 23 लोग मारे गए थे और 30 से ज्यादा घायल हुए थे
  2. तीन हफ्ते बाद याचिका पर सुनवाई होगी
  3. रेलवे और राष्ट्रीय जांच एजेन्सी से तीन सप्ताह के भीतर नोटिस का जवाब मांगा
मुंबई: मुंबई के एलि‍फिंस्‍टन रोड और परेल स्टेशनों को जोड़ने वाले ओवरब्रिज पर पिछले शुक्रवार को मची भगदढ़  में 23 लोगों की मौत हो गई थी. बंबई उच्च न्यायालय ने इस घटना की राष्ट्रीय जांच एजेंसी से जांच कराने की मांग को लेकर दायर जनहित याचिका पर एजेंसी और पश्चिम रेलवे को गुरुवार को नोटिस जारी किया. गत 29 सितंबर को हुए हादसे में 23 लोग मारे गए थे और 30 से ज्यादा घायल हुए थे. न्यायमूर्ति बी आर गवई की अध्यक्षता वाली एक खंडपीठ ने कहा, ‘प्रतिवादियों को नोटिस जारी किया जाए. तीन हफ्ते बाद याचिका पर सुनवाई होगी.’

रेलवे और राष्ट्रीय जांच एजेन्सी को तीन सप्ताह के भीतर नोटिस का जवाब देना है. अदालत ने कहा कि एनआईए की वकील अरूणा कामत पाई और पश्चिम रेलवे के वकील सुरेश कुमार अगली सुनवाई के दौरान जवाब दें. स्थानीय निवासी फैजल बनारसवाला और अब्दुल कुरैशी ने जनहित याचिका में भारतीय रेलवे से इस तरह के पुलों से अवरोधों को हटाने, रास्ता साफ करने, एस्कलेटर लगाने तथा प्रवेश और निकास के कई बिंदु बनाने का निर्देश देने का अनुरोध किया है.

यह भी पढ़ें : मुंबई भगदड़ : शवों के माथे पर नंबर चिपकाने के मामले ने तूल पकड़ा, डॉक्टर को पीटा

टिप्पणियां
याचिका के अनुसार, ‘नियमित रूप से पुल का इस्तेमाल करने वाले कई यात्रियों ने रेल अधिकारियों और सरकार को पत्रों एवं ट्वीट के जरिये पुल की हालत को लेकर आगाह किया था.

VIDEO : मुंबई भगदड़ : राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नव निर्माण सेना का प्रदर्शन​
लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गयी.’ इसमें दावा किया गया कि अफवाह फैली थी कि पुल गिरने जा रहा है जिसके बाद भगदड़ मची. याचिका में कहा गया, ‘अफवाह से यात्रियों में कोलाहल शुरू हो गया. पुलिस से इस बात की जांच कराने की जरूरत है कि क्या घटना एक तरह का आतंकी हमला तो नहीं. एनआईए को इस कोण की जांच करने का निर्देश दिया जाए.’ 
(इनपुट भाषा से) 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement