NDTV Khabar

बिल्डर से फिरौती के मामले में मुंबई पुलिस ने छोटा शकील को बनाया मुख्य आरोपी

पुलिस के मुताबिक छोटा शकील ही पाकिस्तान में बैठकर इक़बाल कासकर और गिरोह को संचालित कर रहा था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिल्डर से फिरौती के मामले में मुंबई पुलिस ने छोटा शकील को बनाया मुख्य आरोपी

फाइल फोटो

मुंबई: जबरन वसूली मामले की जांच कर रही ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने छोटा शकील को एक मामले में मुख्य आरोपी बनाया है. पुलिस के मुताबिक छोटा शकील ही पाकिस्तान में बैठकर इक़बाल कासकर और गिरोह को संचालित कर रहा था और खुद भी फोन कर लोगो को धमकाता भी था. इस बीच स्थानीय अदालत ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इक़बाल कासकर और उसके दोनों साथियों की पुलिस हिरासत 4 दिन के लिए बढ़ा दी है. 

दाउद जैसा गैंग्स्टर बनना चाहता था छोटा शकील का गुर्गा

टिप्पणियां
मामले में आरोपी बिहार के 4 आरोपियों को पकड़ने के लिए बिहार एस टी एफ की मदद ली जा रही है. पता चला है कि बिहार के ये अपराधी गिरोह के इशारे पर मुंबई आते थे और अपराध को अंजाम देकर वापस चले जाते थे. मुमताज इन आरोपियों को शरण देता था.  दोनों ही 'डी' कंपनी के लिए बिल्डर की साइट पर जाते और धमकाते थे.  आरोप है कि बिल्डर को डराने के लिये दोनों ने फायरिंग भी की थी.

ठाणे पुलिस को इस मामले में  बोरीवली में  मटका के धंधे से जुड़े एक आरोपी की भी तलाश है. सूत्रों के मूताबिक वो जबरन वसूली के लिए गिरोह को आर्थिक मदद करता था और बाद में वसूली गई रकम में से हिस्सा लेता था. दाऊद के भाई इक़बाल कासकर और उसके दो साथियों  को एन्काउंटर स्पेशलिस्ट और ठाणे पुलिस की एन्टी एक्सटॉर्शन सेल के वरिष्ठ जांच अधिकारी प्रदीप शर्मा ने 19 सितंबर को नागपाड़ा में उसकी बहन हसीना पारकर के घर से गिरफ्तार किया था. तब से  उस पर कुल तीन मामले दर्ज किए जा चुके हैं. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement