NDTV Khabar

कमला मिल्स हादसा : आरोपियों को भगाने के आरोप में विशाल कारिया गिरफ्तार

अब पुलिस ने शहर के एक ऐसे बड़े होटल व्यवसायी को पकड़ा है, जिसके पास से फरार आरोपी अभिजीत मानकर की कार भी मिली है. हालांकि मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर है.

68 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कमला मिल्स हादसा : आरोपियों को भगाने के आरोप में विशाल कारिया गिरफ्तार

आरोपियों को भगाने के आरोप में गिरफ्तार दूसरे होटल व्यवसाई पुलिस हिरासत में.

खास बातें

  1. पुलिस ने शहर के एक बड़े होटल व्यवसायी को पकड़ा है
  2. उसके पास से फरार आरोपी अभिजीत मानकर की कार मिली
  3. विशाल कारिया पर आरोपियों को भगाने का आरोप
मुंबई: कमला मिल्स आग हादसे के फरार आरोपियों को पकड़ना मुंबई पुलिस के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. आरोपियों को भगाने के आरोप में पुलिस संघवी परिवार के 3 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. मुंबई पुलिस सूचना देने वाले को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा भी कर चुकी है. अब पुलिस ने शहर के एक ऐसे बड़े होटल व्यवसायी को पकड़ा है, जिसके पास से फरार आरोपी अभिजीत मानकर की कार भी मिली है. हालांकि मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर है.

यह भी पढ़ें : कमला मिल्स हादसा : 'मोजो बिस्त्रो' रेस्तरां का मालिक और पूर्व पुलिस चीफ का बेटा युग पाठक गिरफ्तार

पुलिस की मुसीबत है कि 1 अबव रेस्टारेंट के पार्टनर और कमला मिल्स आग हादसे के आरोपी अभिजीत मानकर की कार तो मिल गई, लेकिन न तो मानकर और न ही कृपेश और जिगर संघवी मिले. लिहाजा पुलिस ने कार अपने यहां छिपाकर रखने वाले विशाल कारिया को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. वहां से अदालत ने उसे 17 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया. वैसे तो विशाल कारिया को जमानत मिल जानी चाहिए थी, जैसा कि हितेश, आदित्य और महेंद्र संघवी को मिल गई. लेकिन विशाल कारिया का मामला उतना सीधा नहीं है.

यह भी पढ़ें : कमला मिल्स हादसा: 14 मौत के बाद नींद से जागी BMC, होटलों के अवैध ढांचे को ढहाया

एक तो मुंबई पुलिस की साख दांव पर है. दूसरे विशाल के पास से 1 अबव के फरार आरोपी अभिजीत मानकर की कार मिली है और हादसे के बाद अरोपियों के साथ सीसीटीवी में भी दिखे हैं. यही वजह है कि पुलिस ने विशाल को गैर इरादतन हत्या के मुख्य केस में जोड़कर फरार आरोपियों पर समर्पण के लिए दबाव बनाने की कोशिश की है. हालांकि विशाल के वकील वीरेंद्र खोत का कहना है कि विशाल पर 304 का मामला बनता ही नहीं है, सिर्फ कार उनके यहां से मिली है. वह भी उनके खिलाफ इनाम की घोषणा के पहले से थी. विशाल कारिया का शहर में तकरीबन आधा दर्जन होटल है और भवन निर्माण कंपनियों से भी नाता है.

यह भी पढ़ें : आग लगने वाली घटना में पुलिसवाले ने 8 लोगों की बचाई जान, रितेश देशमुख ने ट्वीट कर किया सलाम

आरोप है कि हादसे की रात विशाल 1 अबव रेस्ट्रो बार के मालिकों के साथ था और भगाने में मदद की. पुलिस के सामने अब दोहरी चुनौती है. पहले सिर्फ 1 अबव के फरार आरोपियों को पकड़ना मुश्किल हो रहा था, लेकिन अब तो मोजोस के दो पार्टनरों में से एक युग तुली भी पुलिस को नहीं मिल रहा. युग तुली के बारे में पता चला है कि हादसे के बाद वह हैदरबाद एयरपोर्ट पर दिखा था लेकिन जब तक मुंबई पुलिस पहुंचती वह गायब हो चुका था. मुंबई पुलिस प्रवक्ता और डीसीपी  दीपक देवराज के मुताबिक फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों में पुलिस टीम गई हुई है.

VIDEO : विशाल कारिया गिरफ़्तार, 1 अबव रेस्टोरेंट का है पार्टनर


हैरानी की बात है कि मामले में सभी फरार आरोपी कोई शातिर अपराधी नहीं बल्कि युवा व्यवसायी हैं. पुलिस ने इनके खिलाफ लुकआउट नोटिस के साथ इनाम भी घोषित कर रखा है फिर भी ये पकड़ में नहीं आ रहे. कहीं ये इनके ऊंचे रसूख का कमाल तो नहीं? 28 दिसंबर की रात कमला मिल्स के दो रेस्ट्रो पब में आग लग गई थी. आग इतनी भयानक थी कि दोनों पब जलकर राख हो गए और हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई. मामले में अभी तक सिर्फ 1 अबव रेस्ट्रो पब के दो मैनेजर और मोजोस के पार्टनर युग पाठक की गिरफ्तारी हुई है बाकी सब अब भी फरार हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement