5 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर मुस्लिम मूक मोर्च का पुणे में प्रदर्शन

वहीं अब गरीब सवर्णों की भी आरक्षण की मांग उठ रही है जिसकी वकालत रामदास अठावले और रामविलास पासवान कर रहे हैं.

5 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर मुस्लिम मूक मोर्च का पुणे में प्रदर्शन

पुणे में मुस्लिम मूक मोर्च का मार्च

पुणे:

एससी/एक्ट और आरक्षण को लेकर देश में छिड़ी बहस के बीच महाराष्ट्र में आज मुस्लिम मूक मोर्चा की ओर से पुणे में एक मार्च निकाला गया है जिसमें मांग की जा रही है कि शिक्षा, नौकरी में मुसलमानों को भी 5 फीसदी का आरक्षण दिया जाए. इसके साथ ही मोर्चा की कई अन्य मांगे भी हैं. गौरतलब है कि आरक्षण को लेकर अब हर समुदाय की ओर से मांग बढ़ती जा रही है. एक ओर जहां हरियाणा और राजस्थान में जाट-गुर्जर आरक्षण के लिये आंदोलन चल रहा है तो दूसरी ओर गुजरात में पाटीदार आरक्षण आंदोलन की अगुवाई हार्दिक पटेल भी इस समय अनशन पर हैं. उनका अनशन 15वें दिन में प्रवेश कर गया है. लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव, द्रमुक नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा ने आज अस्पताल में हार्दिक से मुलाकात की और उनके प्रति समर्थन व्यक्त किया.
 


मोदी सरकार के इस मंत्री की मांग: गरीब सवर्णों को मिले 25 प्रतिशत आरक्षण, दायरा 50 से बढ़ाकर 75 फीसदी किया जाए

वहीं अब गरीब सवर्णों की भी आरक्षण की मांग उठ रही है जिसकी वकालत रामदास अठावले और रामविलास पासवान कर रहे हैं. केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को 25 प्रतिशत आरक्षण देने की राय जाहिर करते हुए आज कहा कि इसके लिये आरक्षण के दायरे को 50 से बढ़ाकर 75 प्रतिशत करना होगा और इसके लिये सभी दलों को सरकार का साथ देना चाहिये.

रणनीति: सवर्णों की नाराज़गी कैसे दूर करेगी बीजेपी?

 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com