NDTV Khabar

राजनीतिक फायदे को ध्यान में रखते हुए दिए गए पद्म पुरस्कार : उद्भव ठाकरे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजनीतिक फायदे को ध्यान में रखते हुए दिए गए पद्म पुरस्कार : उद्भव ठाकरे

BMC चुनावों को लेकर शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ दिया है

मुंबई: बृहन्नमुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) चुनावों में भारतीय जनता पार्टी से नाता तोड़ने के फौरन बाद शिवसेना प्रमुख ने भाजपा पर पद्म पुरस्कारों को लेकर कटाक्ष किया है. शरद पवार को पद्म विभूषण दिए जाने की घोषणा पर उद्भव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी शरद पवार को पद्म सम्मान से सम्मानित कर अपने 'चेले' होने का फर्ज पूरा करते हुए 'गुरुदक्षिणा' दी है.

ठाकरे ने गोरेगांव में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने एक नई प्रथा शुरू की है, पुरस्कारों को बतौर दक्षिणा देकर. गुरुदक्षिणा की बात को स्पष्ट करते हुए उन्होंने बताया कि गन्ना किसानों की संस्था वसंतदादा शुगर इंस्टीट्यूट (वीएसआई) के समारोह के दौरान नरेंद्र मोदी ने पिछले साल नवंबर में कहा था कि जब उन्होंने राजनीति में कदम रखा था जब शरद पवार ने उनकी मदद की थी.

शिवसेना प्रमुख ने आरोप लगाया कि भाजपा राजनीतिक फायदे के लिए पुरस्कारों का इस्तेमाल कर रही है.
बता दें कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार वीएसआई के भी प्रमुख हैं.

टिप्पणियां
बता दें कि नगर पालिका चुनावों में सीटों के बंटबारे को लेकर भाजपा और शिवसेना में चल रही खींचातानी गुरुवार को टूट गई. बीएमसी की करीब आधी सीटों पर भाजपा चुनाव लड़ने की मांग कर रही थी, जबकि शिवसेना उसे 60 से ज्यादा सीटें देने के पक्ष में नहीं थी.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement