NDTV Khabar

एलफिंस्टन स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज पर भगदड़ : मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा

इसकी घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि रेल मंत्रालय के साथ ही महाराष्ट्र सरकार प्रत्येक मृतक के परिजन को अनुग्रह राशि के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये देगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एलफिंस्टन स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज पर भगदड़ : मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा

महाराष्ट्र सरकार भी प्रत्येक मृतक के परिजन को अनुग्रह राशि के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये देगी.

मुंबई: रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि मुंबई  के एलफिंस्टन स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज पर आज सुबह भगदड़ में मारे गए लोगों के परिजन को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. इसकी घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि रेल मंत्रालय की ओर से भी 5-5 लाख और महाराष्ट्र सरकार की ओर से भी प्रत्येक मृतक के परिजन को अनुग्रह राशि के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये दिया जाएगा.

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर हादसा : देवेंद्र फडणवीस ने 5 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया

टिप्पणियां
गोयल ने कहा, 'राज्य सरकार ने मृतकों के परिजन को पांच लाख रुपये अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है. इतनी ही रकम रेल मंत्रालय ने देने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि घटना में गंभीर रूप से घायलों को एक लाख रुपये और मामूली रूप से घायलों को 50000 रुपये दिए जाएंगे. उन्होंने उपनगर ट्रेन नेटवर्क में सभी एफओबी की पूरी 'सुरक्षा और क्षमता' जांच कराने की घोषणा की.

वीडियो : एनडीटीवी की ग्राउंड रिपोर्ट
केईएम अस्पताल में यहां गोयल ने कहा कि घटना पर जांच रिपोर्ट 10 दिनों में आएगी. हालांकि, उन्होंने भगदड़ के शुरूआती कारणों के बारे में कुछ बताने से इंकार किया. वित्तीय राजधानी में 100 अतिरिक्त उपनगरीय सेवा के प्रस्तावित उद्घाटन के लिए आज सुबह मुंबई पहुंचे मंत्री ने घटना के मद्देनजर अपने सभी पूर्व कार्यक्रम रद्द कर दिए.  घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए गोयल ने कहा कि एलिफिंस्टन रोड पर नया पुल बनाने के लिए बजट का आवंटन हो चुका है और निविदा प्रक्रिया चल रही है. 
इनपुट : भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement