NDTV Khabar

भ्रष्टाचार के आरोप में घिरे मंत्री सुभाष देसाई ने की इस्तीफे की पेशकश

उद्योग मंत्री सुभाष देसाई पर  बिल्डर को फायदा पहुंचाने के लिए नासिक में एमआईडीसी की जगह डिनोटिफाइड करने का आरोप है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भ्रष्टाचार के आरोप में घिरे मंत्री सुभाष देसाई ने की इस्तीफे की पेशकश

देवेंद्र फडणवीस ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. शिवसेना के कोटे से मंत्री हैं सुभाष देसाई
  2. सीएम फडणनवीस ने किया इस्तीफा स्वीकार करने से इनकार
  3. बीजेपी कोटे से मंत्री प्रकाश मेहता पर भी है भ्रष्टाचार का आरोप
नई दिल्ली: महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना के कोटे से मंत्री सुभाष देसाई ने इस्तीफे की पेशकश की है लेकिन मुख्यमंत्री देवेंन्द्र फडणवीस ने इस्तीफ़ा लेने से इनकार कर दिया. उद्योग मंत्री सुभाष देसाई पर  बिल्डर को फायदा पहुंचाने के लिए नासिक में एमआईडीसी की जगह डिनोटिफाइड करने का आरोप है,  हालांकि शुक्रवार को ही मुख्यमंत्री ने विधानसभा में जांच का आश्वासन दिया था.  बकौल सुभाष देसाई मुख्यमंत्री ने ये कहकर इस्तीफा मंजूर करने से इंकार कर दिया कि जांच की घोषणा हो चुकी है. जांच में जो सामने आएगा उसके बाद उचित फैसला लिया जाएगा.  

यह भी पढ़ें :  राठा समुदाय को रिजर्वेशन देने के लिए पिछड़ा वर्ग आयोग करेगा अध्ययन

खास बात है कि बीजेपी के मंत्री प्रकाश मेहता पर भी भ्रष्टाचार का आरोप है. विपक्ष 10 दिन से प्रकाश मेहता के इस्तीफे की मांग कर रहा है लेकिन ना तो प्रकाश मेहता ने इस्तीफा दिया और ना ही मुख्यमंत्री ने अब तक मांगा है. कल ही दोनों पर लगे आरोपों की लोकायुक्त से जांच की घोषणा की गई. 

Video :  मराठा मोर्चा में देवेंद्र फडणवीस का ऐलान

राजनीतिक हलकों में सुभाष देसाई के कदम को बीजेपी पर प्रकाश मेहता को हटाने का दबाव बनाने के नजरिये से भी देखा जा रहा है क्योंकि ऐसी चर्चा है कि शिवसैनिकों में सुभाष देसाई को लेकर नाराजगी है और पार्टी उन्हें हटाकर किसी नये चेहरे को मंत्री बना सकती है.  ऐसे में जब सुभाष देसाई का जाना तय है तो उसका राजनीतिक इस्तेमाल करने की कोशिश हो सकती है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement