शिवसेना ने मुखपत्र सामना में भाजपा के साथ संबंधों पर कहा, "भार हल्का होने के बाद अब मुक्त वातावरण"

हाल ही में खड़से और राकांपा प्रमुख शरद पवार की मुलाकात के बाद खड़से के राजनीतिक भविष्य के बारे में अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं.

शिवसेना ने मुखपत्र सामना में भाजपा के साथ संबंधों पर कहा,

शिवसेना के पत्र सामना में बीजेपी पर निशाना साधा गया है.

खास बातें

  • शिवसेना के मुखपत्र सामना में बीजेपी पर निशाना साधा गया
  • एकनाथ खड़से और पंकजा मुंडे पर भी टिप्पणी की गई है
  • विधानसभा चुनावों के बाद से तल्ख हैं बीजेपी शिवसेना के रिश्ते
मुंबई:

शिवसेना (Shivsena) ने शनिवार को कहा कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackerey) के नेतृत्व में पार्टी ने भाजपा (BJP) के साथ संबंध के “भार को कम” किया है जिसके कारण महाराष्ट्र (Maharashtra) में ही नहीं बल्कि भाजपा में भी “मुक्त वातावरण” बना है. पार्टी मुखपत्र सामना (Saamana) में शनिवार को लिखे गए संपादकीय में शिवसेना ने असंतुष्ट नेताओं एकनाथ खड़से (Eknath Khadse) और पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) के बहाने भाजपा की आलोचना की.

संपादकीय में कहा गया, “भाजपा को इस प्रकार की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए कि वह हमसे बात करना चाहते हैं. भाजपा के कुछ सदस्यों ने यह भी कहा कि वह विपक्ष में अधिक दिनों तक नहीं बैठेंगे. हालांकि शिवसेना के भाजपा के साथ संबंध का भार कम करने के बाद महाराष्ट्र भी हल्का महसूस कर रहा है और अब मुक्त वातावरण है.”

यह भी पढ़ें- शिवसेना की BJP को चेतावनी- सतर्क रहें, आपके कई सदस्य उद्धव सरकार के मित्र बन गए हैं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

चुनाव में हुए नुकसान पर खड़से द्वारा भाजपा की आलोचना किये जाने का हवाला देते हुए शिवसेना ने कहा कि अब वातावरण इतना मुक्त और हल्का है कि भाजपा नेता एकनाथ खड़से भी अब भाजपा नेताओं की खुले दिमाग से आलोचना कर रहे हैं.

हाल ही में खड़से और राकांपा प्रमुख शरद पवार की मुलाकात के बाद खड़से के राजनीतिक भविष्य के बारे में अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं. इस पर शिवसेना ने लिखा, “खड़से और शरद पवार ने मुलाकात की और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ भी चर्चा हुई. वह (खड़से) अब साहस के साथ कह सकते हैं कि वह अपने फैसले लेने के लिए स्वतंत्र हैं. यही पंकजा मुंडे के लिए भी सच है. सभी अब दबावमुक्त महसूस कर रहे हैं.”



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)