NDTV Khabar

ऋण के बोझ तले दबे किसान ने ट्रेन के सामने कूद कर दी जान

रेलवे पुलिस ने मंगलवार को बताया कि भागुर के रहने वाले जगदीश बहीरू शिरसत ने सोमवार को यह कदम उठाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऋण के बोझ तले दबे किसान ने ट्रेन के सामने कूद कर दी जान

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. किसान ने चलती ट्रेन के आगे कूद कर कथित तौर पर खुदकुशी कर ली.
  2. मृतक किसान ने डेढ़ लाख रूपए का कर्ज लिया था.
  3. जेब से आत्महत्या से पहले लिखा गया एक पत्र भी मिला है.
नासिक:

ऋण के बोझ तले दबे 37 वर्षीय एक किसान ने जिले के लहवीत स्टेशन के नजदीक एक चलती ट्रेन के आगे कूद कर कथित तौर पर खुदकुशी कर ली. रेलवे पुलिस ने मंगलवार को बताया कि भागुर के रहने वाले जगदीश बहीरू शिरसत ने सोमवार को यह कदम उठाया. देवलाली रेलवे पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ‘जगदीश ने डेढ़ लाख रूपए का कर्ज लिया था और उसका भुगतान नहीं कर पा रहा था.’ उन्होंने बताया कि उसके जेब से आत्महत्या से पहले लिखा गया एक पत्र भी मिला है. अधिकारी के मुताबिक, किसान ने पत्र में लिखा है कि उसने राज्य सरकार की एक योजना के तहत ऋण लिया था.

यह भी पढ़ें : रेलवे पटरी पर धरना दे रहे थे किसान, तभी आ गई ट्रेन, फिर हुआ ये...


टिप्पणियां

अधिकारी ने बताया कि किसान ने मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को संबोधित पत्र में लिखा है, ‘प्राकृतिक आपदाओं के कारण मुझे नुकसान उठाना पड़ा और मैं ऋण का भुगतान नहीं कर पाया जिसके कारण मैं यह कदम उठा रहा हूं.’ जगदीश ने पत्र में अपने परिवार के लिए ‘न्याय’ की भी मांग की. अधिकारी ने बताया कि इस सिलसिले में एक मामला दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है.
 
VIDEO : महाराष्ट्र में किसान कर्ज माफी का सच​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement