NDTV Khabar

अपने ही पोस्टर की राजनीति में फंस गए अरविंद केजरीवाल! एग्जिट पोल्स के नतीजों से उत्साहित बीजेपी ने शुरू की इस्तीफे की मांग

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपने ही पोस्टर की राजनीति में फंस गए अरविंद केजरीवाल! एग्जिट पोल्स के नतीजों से उत्साहित बीजेपी ने शुरू की इस्तीफे की मांग

आम आदमी पार्टी द्वारा लगाए गए कई पोस्टरों में एक पोस्टर.

खास बातें

  1. पोस्टर एमसीडी की बागडोर किसको . अरविंद केजरीवाल या विजेंद्र गुप्ता
  2. एक्जिट पोल : दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बीजेपी की हैट्ट्र्रिक
  3. पोस्टरों में दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार के कामों को गिनाया
नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एमसीडी चुनाव को सीधे अपनी और पार्टी की प्रतिष्ठा का मुद्दा बनाने में खुद ही कोई कसर नहीं छोड़ी. आम आदमी पार्टी की ओर से शहर में तमाम जगहों पर ऐसे पोस्टर लगाए गए जहां पर लोगों से पूछा गया कि एमसीडी की बागडोर किसको - अरविंद केजरीवाल या विजेंद्र गुप्ता (BJP).

कल मतदान हो गया है. दो चैनलों ने अपने- अपने एक्जिट पोल सर्वे जारी कर कहा है कि दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बीजेपी हैट्ट्रिक मारने जा रही है. एग्जिट पोल की रिपोर्ट पर दिल्ली के आम आदमी पार्टी के नेता और प्रवक्ता ज्यादा बोलने को तैयार नहीं हैं. जो बोल भी रहे हैं तो उनके चेहरे पर निराशा है. यह बात अलग है कि पार्टी फिलहाल इस बात का सहारा ले रही है कि एग्जिट पोल गलत साबित होते रहे हैं और इस बार भी गलत साबित हो जाएंगे. पार्टी ने वोटिंग से दो दिन पहले हर बार की तरह अपना इंटरनल सर्वे जारी किया था. पार्टी का दावा था कि दिल्ली के एमसीडी चुनाव में 272 सीटों में से उसे 202 सीटों पर जीत मिलेगी.

यह तो मतदान से चंद दिनों पहले की बात है. इससे पहले आम  आदमी पार्टी ने शहर के कई स्थानों पर पोस्टर लगाकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बनाम दिल्ली बीजेपी के नेताओं की लड़ाई बनाने की कोशिश की. इतना ही नहीं पार्टी के नेता लगातार जनसभाओं और पोस्टरों में दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार के कामों को गिनाया. पार्टी लगातार अपने पोस्टर में बिजली बिल हाफ, पानी माफी और हाउस टैक्स पर बात करते आ रही थी. इतना ही नहीं पार्टी यह भी कहती रही कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने पिछले दो सालों में जो काम किया है, जनता उससे काफी खुश है और इस बार नगर निगम चुनाव में पार्टी को बहुत बड़ी जीत मिलेगी.  

अब अरविंद केजरीवाल को यही सब बातें सताने वाली हैं. बता दें कि दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी की ओर से लगाए गए होर्डिंग का बीजेपी ने विरोध किया था. आप के होर्डिंग में निगम चुनाव में अरविंद केजरीवाल और भाजपा नेता विजेंद्र गुप्ता की तस्वीर लगाकर इनमें से एक को चुनने को कहा गया था. इस पर बीजेपी ने कहा था कि जब चुनाव दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में लड़ा जा रहा है तब विजेंद्र गुप्ता की तस्वीर का इस्तेमाल कर अरविंद केजरीवाल दिल्ली की जनता को क्या संदेश देना चाहते हैं.
अब शाम होते होते एग्जिट पोल्स के नतीजों से उत्साहित बीजेपी नेताओं ने भी इसे अरविंद केजरीवाल की पार्टी और सरकार की हार बताना शुरू कर दिया है. दिल्ली बीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने एक ट्वीट कर कहा है कि अरविंद केजरीवाल ने पूरी दिल्ली में पोस्टर लगा कर अपने नाम पर वोट मांगा था, केजरीवाल चुनाव हारते हैं तो उन्हें तुरंत इस्तीफा देना चाहिए. एक अन्य ट्वीट में बग्गा ने दिल्ली को धन्यवाद दिया है. 

टिप्पणियां
वोटिंग के दौरान अपनी प्रतिक्रिया देते हुए केजरीवाल के आंदोलन के दौरान सहयोगी रहे, आम आदमी पार्टी के संस्थापकों में एक और अब स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव  ने अपने बयान में सीधे केजरीवाल को निशाना बनाया. उन्होंने कहा कि इस एमसीडी चुनाव में हार के बाद अरविंद केजरीवाल को दिल्ली के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. (एमसीडी चुनाव दिल्ली सरकार पर रेफरेंडम भी है? सवाल पर अरविंद केजरीवाल ने ये कहा)

कई लोग दिल्ली के इस एमसीडी चुनाव को दिल्ली सरकार के लिए रेफरेंडम भी कह रहे थे. यही वजह है कि इस बार के चुनाव दिल्ली सरकार के लिए भी काफी अहम हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement