NDTV Khabar

MCD में AAP की हार पर मनीष सिसोदिया का पहला रिएक्शन

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
MCD में AAP की हार पर मनीष सिसोदिया का पहला रिएक्शन

दिल्ली एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी की हार पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बयान दिया है.

खास बातें

  1. दिल्ली एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी की करारी हार
  2. हार के लिए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ईवीएम को जिम्मेदार ठहराया
  3. आप नेताओं में हार का ठिकरा ईवीएम पर फोड़ने की मची होड़
नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम (MCD) चुनावों में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) की करारी हार के बाद राज्य के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इसका ठिकरा ईवीएम (EVM) और पर फोड़ा है. मनीष सिसोदिया ने माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर तीन किश्तों में किए ट्वीट में आरोप लगाया, बीजेपी ने वर्ष 2009 का चुनाव हारने के बाद पांच साल तक ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव जीत रही है. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा, बीजेपी ने ईवीएम पर सिर्फ रिसर्च ही नहीं की, बल्कि इनके नेता जीबीएल नरसिंहाराव व लालकृष्ण आडवाणी ने किताबें भी लिखीं, और इनके नेता सुप्रीम कोर्ट भी गए थे. 

मनीष सिसोदिया के ट्वीट के मुताबिक, "ईवीएम टैम्परिंग देश के लोकतंत्र की ऐसी कड़वी सच्चाई है, जिसका शुरू में मज़ाक उड़ सकता है, लेकिन मज़ाक के डर से हम सच बोलना नहीं छोड़ सकते..." 

बीजेपी ने 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव जीत रही है।1/3 ट्वीट करने के बाद मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेंस को भी संबोधित किया. कहा, नगर निगम चुनाव की स्थिति अब साफ है. दिल्ली में ईवीएम की लहर चलाने की कोशिश की गई है. दिल्ली में बीजेपी ने कूड़ा, डेंगू फैलाने का काम किया है. फिर भी बीजेपी की जीत हुई है. यह आश्चर्य है. बीजेपी की जीत की कोई वजह नहीं है.
 
उन्होंने कहा कि बीजेपी की जीत का अंतर इतना बड़ा नहीं हो सकता है. यह अविश्वसनीय है. मनीष सिसोदिया ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी नेताओं ने ईवीएम टैंपरिंग पर किताब लिखी है. उन्होंने कहा कि यही लोग सुप्रीम कोर्ट गए थे.  2009 में चुनाव हारने के बाद ये लोग चुनाव आयोग गए. सुप्रीम कोर्ट गए. उसी टैंपरिंग के हिसाब से ये लोग चुनाव जीत रहे हैं.

गोपाल राय और आशुतोष ने भी ईवीएम पर ठिखरा फोड़ा

आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय ने कहा है कि यह मोदी लहर नहीं, ईवीएम लहर है. आप नेता आशुतोष ने भी गोपाल राय के ही सुर में सुर मिलाते आप की हार का ठीकरा ईवीएम पर ही फोड़ा. आप से ही जुड़े नगेंद्र शर्मा ने बीजेपी पर तंज कसते हुए ट्वीट कर कहा कि पिछले एक दशक से दिल्‍ली की गलियों की बिना सफाई किए ही जीत हासिल की. आखिर ऐसा हो भी क्‍यों न, जब मशीन(ईवीएम) आपके साथ हो तो आपकी इच्‍छा का कोई मतलब नहीं रह जाता. हालांकि इस बीच हार के कारणों पर मंथन के लिए आप नेता मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर एकत्र हुए हैं.

उल्‍लेखनीय है कि दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे आने से पहले जब एग्जिट पोल आए थे तो गोपाल राय ने कुछ इसी अंदाज में बात कही थी. उस वक्‍त जब गोपाल राय से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अगर EVM की चलती है तो ये सर्वे सही है, बल्कि हमारी हालत इससे भी बुरी हो सकती है, लेकिन अगर जनता की चली तो आम आदमी पार्टी आज नंबर 1 पर है और बहुत बड़े मार्जिन से आम आदमी पार्टी चुनाव जीतेगी.

टिप्पणियां
उससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य चुनाव आयोग को आड़े हाथ लेते हुए कहा था कि मतदान के दिन 'खराब' इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की खबरें दिल्ली के हर हिस्से से आ रही हैं. उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि मान्य वोटर पर्चियां होने के बाद भी कई वोटरों को नगर निगम चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं करने दिया गया. 

गौरतलब है कि केजरीवाल ने पहले मांग की थी कि वीवीपीएटी से लैस ईवीएम से मतदान कराने का इंतजाम किए जाने तक चुनाव टाल दिए जाएं.
  उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'ईवीएम में खराबी की खबरें पूरी दिल्ली से आ रही हैं, वोटर पर्चियों से लैस लोगों को भी वोट डालने नहीं दिया जा रहा. राज्य चुनाव आयोग कर क्या रहा है?' आयोग के एक अधिकारी ने स्वीकार किया कि कुछ जगहों से 'तकनीकी गड़बड़ी' की खबरें आई हैं, लेकिन उन गड़बड़ियों को दूर कर दिया गया.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement