भोपाल : मदरसे में 10 साल के बच्‍चे को जंजीरों से बाध कर रखा, सामने आई यह वजह...

पुलिस ने सवाल जवाब के बाद मदरसा प्रबंधक को जेजे एक्ट के अलावा आईपीसी की धारा के तहत गिरफ्तार कर लिया है.

भोपाल : मदरसे में 10 साल के बच्‍चे को जंजीरों से बाध कर रखा, सामने आई यह वजह...

भोपाल:

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के अशोका गार्डन इलाके में स्थित एक निजी मदरसे में एक नाबालिग को जंजीर से बांध कर रखने का चौंकाने वाला मामला सामना आया है. मामले का पता तब लगा जब दो नाबालिग छात्र रोते हुए बेंच से बंधे हुए घसीटते हुए मदरसे से निकले. सड़क पर जब दोनों को लोगों ने देखा तब पुलिस को खबर की गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्र को बेंच से खोला और अपने साथ लेकर थाने आ गई. शहर के पिपलानी इलाके में रहने वाले दोनों लड़के उन 22 लड़कों में से थे, जो अशोका गार्डन पुलिस स्टेशन के पास जकारिया मदरसा में पढ़ते और रहते थे. अशोक गार्डन के थाना प्रभारी उमेश यादव ने कहा कि पुलिस ने बाद में 10 साल के इस बच्चे को चेन से छुड़ाने के लिये गैस कटर का इस्तेमाल किया.

देश में पहली बार मदरसे के छात्रों के लिए ऑल इंडिया स्तर की खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन

मदरसा प्रबंधक मोहम्मद शाद ने पुलिस को बताया कि एक लड़के को उसके मां-बाप की अनुमति से बेंच से बांध कर रखा जाता था क्योंकि वह अक्सर मदरसे से भाग जाता था. पुलिस ने सवाल जवाब के बाद मदरसा प्रबंधक को जेजे एक्ट के अलावा आईपीसी की धारा के तहत गिरफ्तार कर लिया है.


अशोका गार्डन पुलिस के सूत्रों के मुताबिक संबंधित मदरसा राज्य मदरसा बोर्ड के साथ पंजीकृत नहीं था, लेकिन एक पंजीकृत शैक्षिक सोसायटी के तहत चलाया जा रहा था. दोनों नाबालिगों को शहर के टीटी नगर पुलिस स्टेशन में फिलहाल रखा गया है और सोमवार को जिला बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के समक्ष पेश किया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: मोदी का मिशन माइनॉरिटी, 5 साल में 5 करोड़ छात्रों को वज़ीफ़ा