NDTV Khabar

मंदसौर गैंगरेप में दोषियों को फांसी की सजा मिलने के बाद पीड़ित बच्ची के पिता ने कही यह बात...

मध्य प्रदेश के मंदसौर में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप करने वाले दोनों युवकों को फांसी की सजा सुनाई जाने के बाद पीड़ित बच्ची के पिता ने संतोष जताया. उनका कहना है कि इस फैसले से छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार के खिलाफ सख्त संदेश जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मंदसौर गैंगरेप में दोषियों को फांसी की सजा मिलने के बाद पीड़ित बच्ची के पिता ने कही यह बात...

प्रतीकात्मक फोटो.

इंदौर: मध्य प्रदेश के मंदसौर में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप करने वाले दोनों युवकों को फांसी की सजा सुनाई जाने के बाद पीड़ित बच्ची के पिता ने संतोष जताया. उनका कहना है कि इस फैसले से छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार के खिलाफ सख्त संदेश जाएगा. पीड़ित बच्ची मंदसौर से करीब 200 किलोमीटर दूर इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) में 27 जून की रात से भर्ती है. वह पिछले दो महीनों के दौरान दो जटिल सर्जरी से गुजर चुकी है.

यह भी पढ़ें : मंदसौर रेप के आरोपियों तक आसान नहीं था पहुंचना, काले धागे और जूते ने दिया था अहम सुराग

पिता ने कहा, 'मेरी बच्ची और मेरा परिवार पिछले दो महीने से कई परेशानियों से गुजर रहा है. हम शुरुआत से यही चाहते थे कि दोनों युवकों को फांसी की सजा सुनाई जाए. आखिरकार दोनों को यह सजा सुना दी गई है.' उन्होंने कहा कि फास्ट ट्रैक अदालत में सुनवाई के कारण मामले में जल्द फैसला आ गया. दोनों मुजरिमों को मृत्युदंड सुनाए जाने के फैसले से समाज में छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार के खिलाफ सख्त संदेश जाएगा और आइंदा ऐसी वारदातों में कमी आएगी.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : मध्य प्रदेश : मंदसौर में 7 साल की बच्ची के साथ रेप, CCTV की मदद से आरोपी गिरफ्तार
 

उन्होंने कहा कि एमवायएच में उनकी बच्ची का करीब 10 दिन पहले दूसरा ऑपरेशन किया गया था. अब उसकी हालत पहले से काफी बेहतर है. उन्होंने बताया, 'डॉक्टरों का कहना है कि ऑपरेशन के दौरान लगाए गए टांकों के घाव भरने के बाद मेरी बच्ची को अस्पताल से छुट्टी देने पर विचार किया जाएगा.' मंदसौर की विशेष न्यायाधीश निशा गुप्ता ने स्कूली छात्रा का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप के मामले में इरफान उर्फ भैयू (20) एवं आसिफ (24) को दोषी करार देते हुए मौत की सजा सुनाई है. मंदसौर में बच्ची को 26 जून की शाम लड्डू खिलाने का लालच देकर अगवा कर लिया गया, जब वह स्कूल की छुट्टी के बाद पैदल अपने घर जा रही थी.
 

VIDEO: मंदसौर रेप के दोषियों को फांसी की सजा

सामूहिक बलात्कार के बाद कक्षा तीन की छात्रा को जान से मारने की नीयत से उस पर धारदार हथियार से हमला भी किया गया था. वह 27 जून की सुबह शहर के बस स्टैंड के पास झाड़ियों में लहूलुहान मिली थी.

(इनपुट: भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement