रमन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे अजीत जोगी, 11 फरवरी को राजनंदगांव में फूंकेंगे बिगुल

अजीत जोगी अगर राजनंदगांव से चुनाव लड़ते हैं तो छत्तीसगढ़ की 90 सीटों में बीजेपी के लिये सबसे सुरक्षित समझी जाने वाले सीट में चक्रव्यूह सज जाएगा और जोगी भी एक तीर से दो निशाना लगा लेंगे.

रमन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे अजीत जोगी, 11 फरवरी को राजनंदगांव में फूंकेंगे बिगुल

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (फाइल फोटो)

भोपाल:

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ चुनाव में ताल ठोकेंगे. जोगी ने दावा किया है कि जिस भी सीट से मुख्यमंत्री चुनाव लड़ेंगे, वहीं से वो भी चुनाव मैदान में उतरेंगे. अजीत जोगी 11 फरवरी को राजनंदगांव की जनता के बीच इसका औपचारिक ऐलान करेंगे. 11 फरवरी की शाम राजनंदगांव में 'एक शाम अजीत जोगी' के नाम कार्यक्रम भी होगा. अजीत जोगी अगर राजनंदगांव से चुनाव लड़ते हैं तो छत्तीसगढ़ की 90 सीटों में बीजेपी के लिये सबसे सुरक्षित समझी जाने वाले सीट में चक्रव्यूह सज जाएगा और जोगी भी एक तीर से दो निशाना लगा लेंगे. पहला, ये सीट और चुनाव हमेशा सुर्खियों में रहेगा, दूसरा रमन सिंह के साथ सांठ-गांठ को लेकर उठाये रहे जा रहे विरोधियों के सवालों पर विराम लग जाएगा.

हालांकि अजीत जोगी ने चुनाव को लेकर पहले खुलकर कभी नहीं बोला था, पहले उन्होंने कहा कि इस बार का चुनाव वो लड़ेंगे नहीं लड़वाएंगे, बाद मे उन्होंने गौरीशंकर अग्रवाल के खिलाफ भी चुनाव लड़ने के संकेत दिये. लेकिन अब अजीत जोगी ने पक्का इरादा कर लिया है कि वो रमन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे. जोगी ने कहा कि 'छत्तीसगढ़ में चुनाव डॉ. रमन सिंह और अजीत जोगी के बीच होगा. कांग्रेस मुकाबले में भी नहीं रहेगी. मोदी का इफेक्ट राहुल तक सीमित है और राहुल का इफेक्ट ट्विटर तक.'

Newsbeep

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने जोगी के राजनंदगांव से चुनाव लड़ने पर कहा, 'यह लोकतंत्र है. कोई भी कहीं से भी लड़ सकता है. अगर राजनंदगांव में लड़ना चाहते हैं तो अच्छी बात है.' छत्तीसगढ़ में विधानसभा की 90 सीटें हैं जिसमें 49 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी का तथा 39 सीटों पर कांग्रेस का कब्जा है जबकि एक-एक सीट पर बहुजन समाज पार्टी और निर्दलीय विधायक हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: मैं मजबूर होकर कांग्रेस पार्टी छोड़ रहा हूं : अजीत जोगी