NDTV Khabar

अस्थि कलश यात्रा: ग्‍वालियर में अटल जी के परिवार की अनदेखी, कैब नहीं दिलाई तो ऑटो में गई भतीजी

छत्तीसगढ़ के बाद अब ग्वालियर में 'अस्थि कलश यात्रा' में पूर्व प्रधानमंत्री अटल वाजपेयी के परिवार की अनदेखी हुई. आयोजक अटल जी की भतीजी कांति मिश्रा को एक कैब तक मुहैया नहीं करा पाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अस्थि कलश यात्रा: ग्‍वालियर में अटल जी के परिवार की अनदेखी, कैब नहीं दिलाई तो ऑटो में गई भतीजी

ग्वालियर में 'अस्थि कलश यात्रा' में पूर्व प्रधानमंत्री अटल वाजपेयी के परिवार की अनदेखी हुई

खास बातें

  1. अटल वाजपेयी के परिवार की अनदेखी हुई
  2. भतीजी कांति मिश्रा को एक कैब तक मुहैया नहीं करा पाए
  3. पति और परिवार के दूसरे सदस्यों के साथ एक ऑटो में वापस घर जाना पड़ा
भोपाल : छत्तीसगढ़ के बाद अब ग्वालियर में 'अस्थि कलश यात्रा' में पूर्व प्रधानमंत्री अटल वाजपेयी के परिवार की अनदेखी हुई. आयोजक अटल जी की भतीजी कांति मिश्रा को एक कैब तक मुहैया नहीं करा पाए. फिर उन्हें अपने पति और परिवार के दूसरे सदस्यों के साथ एक ऑटो में वापस घर जाना पड़ा. फूलबाग मैदान में श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन किया गया था. सीएम शिवराज, एमपी बीजेपी अध्यक्ष राकेश सिंह, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, प्रभात झा जैसे नेता सभा और यात्रा में मौजूद थे.

वहीं पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि कलश जब रायपुर पहुंचा तो श्रद्धांजलि के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सरकार के दो मंत्री हंसी ठिठोली करते नज़र आए. गंभीर माहौल के बीच अजय चंद्राकर और ब्रृजमोहन अग्रवाल हंसते हुए नज़र आए. मंत्रियों की हंसी ठिठोली की आवाज जैसे ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक के कानों तक पहुंची उन्होंने तुरंत दोनों मंत्रियों को डांट लगाई. 
 
fgg6r9p8
श्रद्धांजलि के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सरकार के दो मंत्री हंसी ठिठोली करते नज़र आए


PM मोदी ने शुरू की 'अटल अस्थिकलश यात्रा', BJP के प्रदेश अध्यक्षों को सौंपे कलश

बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने बताया कि वाजपेयी के अस्थि कलश को दिल्ली से लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक बुधवार को रायपुर लेकर पहुंचे. कौशिक के रायपुर पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनके मंत्रिमंडल के सदस्य दर्शन के लिए माना विमानतल पहुंचे जहां से कलश को अटल प्रार्थना रथ से ले जाया गया. रथ पर मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, सांसद समेश बैस, राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय समेत अन्य वरिष्ठ नेता सवार थे. भाजपा नेताओं ने बताया कि अटल अस्थि कलश विमानतल से रवाना होकर तेलीबांधा चौक पहुंचा. जहां से शहर के अन्य मार्गों से होता हुआ भाजपा के शहर कार्यालय एकात्म परिसर में कलश यात्रा का समापन हुआ. 

रमन सिंह के बाद योगी ने भी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का नाम होगा 'अटल पथ'

शहर में जगह-जगह पर आम लोगों ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने बताया कि एकात्म परिसर में प्रार्थना सभा में राज्य के सभी जिलों से आये पदाधिकारियों को अटल अस्थि कलश दी गई, जिसे सभी जिलों व मंडलों में आयोजित सर्वदलीय प्रार्थना सभा में आम जनों के दर्शन के लिए रखा जायेगा. इसके बाद राज्य की प्रमुख नदियों में विसर्जित की जायेगी. प्रार्थना सभा में विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, सांसद रमेश बैस, केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय, अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम, रमन मंत्रिमंडल के सदस्य तथा अन्य वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे. 

शत्रुघ्न सिन्हा ने किया सिद्धू का बचाव, कहा- मैं सिर्फ भाजपा को आईना दिखाने की कोशिश कर रहा हूं

टिप्पणियां
बीजेपी नेताओं ने बताया कि अटल जी की अस्थि का विसर्जन गुरुवार शाम राजिम के त्रिवेणी संगम में किया जायेगा. यहां आयोजित प्रार्थना सभा में मुख्यमंत्री रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक और अन्य नेता शामिल होंगे. इससे पहले सुबह 9 से 11 बजे टाउन हाल में अटल जी की अस्थि आमजनों के लिए अंतिम दर्शनार्थ रखी जाएगी.

VIDEO: पूरे देश में निकाली जाएगी पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement