दिग्विजय सिंह की जीत की भविष्यवाणी करने वाले बैराग्यानंद लेंगे समाधि, जिलाधिकारी को लिखी चिट्ठी

निरंजनीय अखाड़े के पूर्व महामंडलेश्वर बैराग्यानंद गिरी ने भी दिग्विजय सिंह के चुनाव प्रचार किया. प्रचार के दौरान वो यहां तक कह गए कि अगर दिग्विजय सिंह चुनाव हार गए तो वो समाधि ले लेंगे.

दिग्विजय सिंह की जीत की भविष्यवाणी करने वाले बैराग्यानंद लेंगे समाधि, जिलाधिकारी को लिखी चिट्ठी

बैराग्यानंद गिरी ने दिग्विजय सिंह के लिए मिर्ची यज्ञ किया था (फाइल फोटो)

भोपाल:

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में भोपाल (Bhopal) संसदीय सीट से कांग्रेस के उम्‍मीदवार दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) को बीजेपी उम्‍मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) के हाथों हार का सामना करना पड़ा. दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने जीत के तमाम जतन किए, चुनाव प्रचार में जोर लगाने के अलावा साधु संतों की शरण में भी गए. निरंजनीय अखाड़े के पूर्व महामंडलेश्वर बैराग्यानंद गिरी (Bairagyanand Giri) ने भी दिग्विजय सिंह के लिए चुनाव प्रचार किया. प्रचार के दौरान वो यहां तक कह गए कि अगर दिग्विजय सिंह चुनाव हार गए तो वो समाधि ले लेंगे. 23 मई को चुनावी नतीजे आए और दिग्विजय सिंह हार गए. अब बैराग्यानंद गिरी ने अपनी भविष्यवाणी गलत साबित होने पर 16 जून को हवन-कुंड में ब्रह्मलीन समाधि लेने की घोषणा की है. इसके लिए उन्होंने जिलाधिकारी को एक आवेदन देकर स्थान निर्धारित करने सहित समाधि लेने की अनुमति मांगी है.

निरंजनीय अखाड़े के पूर्व महामंडलेश्वर बैराग्यानंद ने अपने अधिवक्ता माजिद अली के माध्यम से जिलाधिकारी को बुधवार को दिए आवेदन में कहा है, "कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के पक्ष में प्रचार करते हुए उनकी विजय की कामना के लिए एक यज्ञ-हवन किया था. इस दौरान संकल्प लिया था कि अगर इस चुनाव में दिग्विजय सिंह को पराजय मिलती है तो हवन कुंड में ब्रह्मलीन समाधि लूंगा."

लोकसभा चुनाव के दौरान बेहूदे बयान देकर चर्चा में रहे यह नेता मैदान जीतने में हुए सफल

पत्र में आगे कहा गया है, "साधु-संतों से परामर्श के बाद विधि-विधान से 16 जून अपराह्न् दो बजकर 11 मिनट पर ब्रह्मलीन समाधि लेने का निश्चय किया है, ताकि संकल्प पूरा कर सकूं." बैराग्यानंद ने जिलाधिकारी से समाधि के लिए स्थान निर्धारित करते हुए स्वीकृति प्रदान करने का अनुरोध किया है.

विवादों के बाद भी जीत गईं प्रज्ञा ठाकुर, मालेगांव धमाकों की आरोपी से लेकर सांसद बनने तक का सफर

ज्ञात हो कि बाबा बैराग्यानंद ने मई माह में लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिह को चुनाव जिताने के लिए राजधानी के कोहेफिजा इलाके में मिर्ची यज्ञ किया था. इसी के दौरान उन्होंने घोषणा की थी कि यदि दिग्विजय सिह लोकसभा चुनाव में भोपाल सीट से चुनाव नहीं जीते तो वह (बाबा बैराग्यनंद) हवन-कुंड में समाधि ले लेंगे.

Newsbeep

लोकसभा चुनाव में सिंह को भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से हार का सामना करना पड़ा. उसके बाद से बाबा बैराग्यानंद को लेकर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही थीं. अब उन्होंने समाधि लेने की घोषणा की है और जिलाधिकारी से स्थान निर्धारित करने और अनुमति देने का अनुरोध किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: प्रज्ञा ठाकुर ने 3 लाख 64 हजार वोटों से दिग्विजय सिंह को हराया