बीजेपी 25 मार्च तक पेश कर सकती है सरकार बनाने का दावा, सीएम की दौड़ में शिवराज सबसे आगे

मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया था. अब खबर आ रही है कि भारतीय जनता पार्टी 25 मार्च तक सरकार बनाने का दावा कर सकती है.

बीजेपी 25 मार्च तक पेश कर सकती है सरकार बनाने का दावा, सीएम की दौड़ में शिवराज सबसे आगे

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान- फाइल फोटो

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया था. अब खबर आ रही है कि भारतीय जनता पार्टी 25 मार्च तक सरकार बनाने का दावा कर सकती है. आज बीजेपी विधायक दल का नेता चुने जाने पर संशय है. हालांकि 23 मार्च को विधायक दल की बैठक हो सकती है. वहीं मध्य प्रदेश में तीन बार के मुख्यमंत्री रह चुकी शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर सीएम की रेस में सबसे आगे हैं. मुख्यमंत्री के पद के लिए नरेन्द्र सिंह तोमर, नरोत्तम मिश्रा और थावर चंद गहलोत के नामों पर भी चर्चा चल रही है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री सत्यनारायण जटिया ने बताया कि पार्टी के पास योजना है. उम्मीद है कि कोई कठिनाई नहीं होगी. बीजेपी के पास अनुभवी नेतृत्व है . परंपरा के आधार पर नेतृत्व का चयन होगा. विधायक दल नए मुख्यमंत्री का चयन करेगा, यह प्रक्रिया केंद्रीय नेतृत्व के मार्गदर्शन में होगी. कर्नाटक में भी ऐसा ही हुआ है. लेकिन शिवराज को पार्टी के भीतर से ख़ामोश चुनौतियां भी मिल रही हैं. नरोत्तम मिश्रा से लेकर नरेंद्र सिंह तोमर तक के नाम हवा में हैं. इसलिए कोई खुल कर कुछ नहीं बोल रहा.

कमलनाथ के इस्तीफे के कुछ ही मिनटों बाद पत्रकारों ने जब कृषि और ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से पूछा कि क्या वो भोपाल जाने को तैयार हैं तो वो कुछ भी बोलने से बचते दिखे. जब तोमर से पूछा गया कि वे केंद्र की रानीति में रहेंगे या राज्य की राजनीति में जाने को तैयार हैं? इस पर उन्होंने कहा कि पार्टी की बैठक होने दो. क्या होता है वो देखंगे.

कमलनाथ सरकार के जाने के बाद बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व के सामने चुनौती सबकी सहमति से मुख्यमंत्री चुनकर राज्य में एक स्थिर सरकार चुनने की होगी. साथ ही उसने इन सभी विधायकों को भी संतुष्ट करना होगा जो कांग्रेस छोड़कर बीजेपी के साथ आए हैं.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com