NDTV Khabar

अमित शाह ने मध्यप्रदेश में चुनावी बिगुल फूंका, पार्टी को दिया जीत का मंत्र

कांग्रेस पर लगाया पूरी दुनिया में हिंदुओं को बदनाम करने और उन्हें नीचा दिखाने का आरोप, राहुल गांधी को बनाया निशाना

399 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमित शाह ने मध्यप्रदेश में चुनावी बिगुल फूंका, पार्टी को दिया जीत का मंत्र

अमित शाह ने शुक्रवार को भोपाल में बीजेपी के कार्यकर्ताओँ को संबोधित किया.

खास बातें

  1. शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाने की कोशिश की
  2. बीजेपी का दावा, इस बार प्रदेश में कॉर्पोरेट बनाम किसान की लड़ाई
  3. कांग्रेस ने कहा अमित शाह डॉन के रूप में पहचाने जाते हैं, जवाब जनता देगी
भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज चुनावी बिगुल फूंका. कर्नाटक चुनाव के बीच वे दो घंटे के लिए प्रदेश स्तरीय विस्तारित बैठक को संबोधित करने यहां आए थे. उन्होंने बीजेपी के लिए 15वां चुनाव जीतने का मंत्र तो दिया ही, कांग्रेस पर यह आरोप भी लगाया कि उसने पूरी दुनिया में हिंदुओं को बदनाम किया है और उन्हें नीचा दिखाया है.
        
मंच से कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा चौथी बार जीतेंगे तो पिछला रिकॉर्ड तोड़कर जीतेंगे. मध्यप्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर कमल खिलाने के मकसद से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा मध्यप्रदेश में बीजेपी सरकार अंगद का पैर है, उसे कोई हिला नहीं सकता. शाह के तीर भोपाल से चले लेकिन निशाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी थे.

यह भी पढ़ें : 'एंटी इन्कंबेंसी' शब्द कांग्रेस के लिए, बीजेपी के लिए नहीं : अमित शाह

अमित शाह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे हर मतदाता को बताएं कि कांग्रेस सनातन धर्म विरोधी है. राहुल गांधी 2014 के चुनाव में हिन्दू टेरर बोलते थकते नहीं थे. मैं कहना चाहता हूं जिस प्रकार से हिन्दू संस्कृति को बदनाम किया उन्हें हिन्दू समाज से माफी मांगनी चाहिए. बीजेपी का दावा है कि इस बार प्रदेश में कॉर्पोरेट बनाम किसान की लड़ाई है.

टिप्पणियां
वहीं कांग्रेस ने अमित शाह की छवि पर निशाना साधा और कहा कांग्रेस हर समाज की बात करती है. कांग्रेस प्रवक्ता माणक अग्रवाल ने कहा अमित शाह डॉन के रूप में पहचाने जाते हैं, जवाब जनता देगी. कांग्रेस सेक्युलर पार्टी है सभी को समान रूप से देखते हैं.
     
बीजेपी का प्लान है हर जिले में अमित शाह का दौरा और बूथ लेवल पर कांग्रेस को पटखनी देना. उधर कमलनाथ भी पूरी सक्रियता से चुनावी बिसात बिछाने में जुट गए हैं. मध्यप्रदेश में इस बार कमलनाथ की अध्यक्षता में कांग्रेस चुनावी शंखनाद कर चुकी है.

VIDEO : कर्नाटक में दिग्गज लगा रहे जोर     

कांग्रेस-बीजेपी के बीच भोपाल में शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने अमित शाह को काले झंडे दिखाकर अपनी मौजूदगी दर्ज कराने की कोशिश की लेकिन पुलिस के आने से पहले वे भाग गए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement