NDTV Khabar

CCTV फुटेज: बिल्डर को गोलियों से सरेआम भून फरार हुए बदमाश, कुछ सेकेंड बाद आकर की तस्दीक, जिंदा मिलने पर फिर मारी गोली

पुलिस ने मृतक की पहचान 45 वर्षीय संदीप अग्रवाल के रूप में की है. खास बात यह है कि आरोपियों ने यह घटना पुलिस स्टेशन से महज कुछ मीटर की दूरी पर अंजाम दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CCTV फुटेज: बिल्डर को गोलियों से सरेआम भून फरार हुए बदमाश, कुछ सेकेंड बाद आकर की तस्दीक, जिंदा मिलने पर फिर मारी गोली

इंदौर में सरेआम हत्या

खास बातें

  1. बुधवार शाम को हुई बिल्डर की हत्या
  2. पुलिस कर रही है आरोपियों की तलाश
  3. मृतक मीडिया चैनल का मालिक था
इंदौर:

मध्य प्रदेश के इंदौर में बुधवार शाम एक बिल्डर व मीडिया चैनल के मालिक की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई. घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल बिल्डर को पास के अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस के अनुसार बिल्डर की इलाज के दौरान मौत हो गई. पुलिस ने मृतक की पहचान 45 वर्षीय संदीप अग्रवाल के रूप में की है. खास बात यह है कि आरोपियों ने यह घटना पुलिस स्टेशन से महज कुछ मीटर की दूरी पर अंजाम दिया है. इस घटना ने इंदौर में कानून व्यवस्था की पोल खोल दी है. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है. पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की मदद से आरोपियों की पहचान करने में जुटी है. 

 


गौरतलब है कि इस तरह का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले पिछले साल सिवनी जिला मुख्यालय के बीचो-बीच थाना कोतवाली के बगल में एक सिरफिरे युवक ने गर्ल्स कॉलेज की छात्रा की पत्थर से मारकर हत्या कर दी थी. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था. जानकारी के अनुसार लखनवाड़ा थाना क्षेत्र के फुलारा गांव की 22 वर्षीय रानू नागोत्रा नेताजी सुभाषचंद्र बोस कन्या महाविद्यालय सिवनी में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी.

यह भी पढ़ें: तिहरे हत्याकांड का आरोपी इनामी डकैत मुलायम सिंह यादव गिरफ्तार

घटना वाले दिन वह कॉलेज जा रही थी. इसी दौरान थाना कोतवाली के बगल से गर्ल्स कॉलेज जाने वाले मार्ग पर फुलारा निवासी अनिल मिश्रा नाम के शख्स ने उसे घेर लिया. अनिल ने रानू नागोत्रा को जमीन पर गिराने के बाद उसके उपर पत्थर पटक दिया. जिससे छात्रा की मौके  पर ही मृत्यु हो गई. इसके बाद घटनास्थल पर मौजूद एक दुकानदार ने दौड़ाकर आरोपी को पकड़ लिया. घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक विवेकराज सिंह एवं एसडीओपी के.के. वर्मा, नगर निरीक्षक अरविंद जैन सहित एफएसएल टीम मौके पर पहुंची.

यह भी पढ़ें: पत्नी की आंख, नाक और मुंह में डाला Fevikwik, दम घुटने से हुई मौत

रानू नागोत्रा को अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस द्वारा शव का पंचनामा करा दिया गया और पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया गया है. दूसरी तरफ, यह भी सामने आया था कि छात्रा ने पहले ही अनिल मिश्रा के विरूद्ध छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया था. आरोपी छात्रा पर अपना बयान बदलने का दबाव डाल रहा था, क्योंकि मामला कोर्ट में थी. 

VIDEO: एमपी का सबसे बड़ा सीरियल किलर गिरफ्तार.

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement