मध्यप्रदेश में बुकिंग रद्द करने वाली कैब कंपनी को भरना होगा 1,000 रुपये जुर्माना

मध्यप्रदेश में सरकार मोबाइल फोन एप आधारित कैब सेवा संचालित करने वाली कंपनियों के लिये जल्द ही नए नियम लागू करने जा रही है.

मध्यप्रदेश में बुकिंग रद्द करने वाली कैब कंपनी को भरना होगा 1,000 रुपये जुर्माना

प्रतीकात्मक तस्वीर

भोपाल:

मध्यप्रदेश में सरकार मोबाइल फोन एप आधारित कैब सेवा संचालित करने वाली कंपनियों के लिये जल्द ही नए नियम लागू करने जा रही है. इसके तहत बुकिंग स्वीकार करने के बाद सेवा देने से मना करने पर कैब कंपनी को 1,000 रुपये का जुर्माना भरना होगा. प्रदेश के परिवहन विभाग के उप सचिव नियाज खान ने पीटीआई भाषा से कहा कि कैब कंपनी बुकिंग स्वीकार करने के बाद यदि ग्राहक को सेवा देने से मना करती है तो कंपनी को 1,000 रूपया जुर्माना देना होगा.

बिहार: भादोघाट गांव ने बनाया नियम, नशा करने वाले पर 51 हजार रुपये जुर्माना

दरअसल, सरकार ने कैब कंपनियों को संचालित करने के लिये नियमों का मसौदा तैयार किया है. उन्होंने बताया कि इस मसौदे को प्रशासनिक मंजूरी के बाद प्रदेश के विधि विभाग को भेजा गया है. उन्होंने उम्मीद जताई कि विधि विभाग की स्वीकृति के बाद एक माह में इसे जारी कर दिया जायेगा.

स्वतंत्रता दिवस पर जम्मू-कश्मीर के कोने-कोने में फहराएगा तिरंगा, दिल्ली से मंगवाए 50 हजार झंडे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने बताया कि प्रदेश के बड़े नगरों में ओला, उबर और एक अन्य कैब कंपनी अपनी सेवाएं दे रही है. सूत्रों ने बताया कि कैब बुक करने वाले ग्राहकों ने इस संबंध में कैब कंपनियों की सरकार से शिकायत की थी. इसलिये सरकार ने इस मामले में यह पहल की है.

Video: बेंगलुरु में ओला कैब के ड्राइवर ने महिला यात्री से की बदसलूकी



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)