छत्तीसगढ़ : रमन सरकार में मंत्री रहे बीजेपी नेता का बयान, कमीशनखोरी न होती तो भाजपा चौथी बार सत्ता में आती

सत्ता गंवाने के बाद भाजपा नेता और पूर्व मंत्री भैया लाल राजवाड़े का दर्द छलक पड़ा और उन्होंने अपनी ही सरकार की कमियों का पर्दाफाश किया.

छत्तीसगढ़ : रमन सरकार में मंत्री रहे बीजेपी नेता का बयान, कमीशनखोरी न होती तो भाजपा चौथी बार सत्ता में आती

रमन सिंह सरकार में मंत्री थे भैयालाल राजवाड़े. (प्रतिकात्मक चित्र)

रायपुर :

सत्ता गंवाने के बाद भाजपा नेता और पूर्व मंत्री भैया लाल राजवाड़े का दर्द छलक पड़ा और उन्होंने अपनी ही सरकार की कमियों का पर्दाफाश किया. कहा कि यदि कमीशन नहीं लिया होता तो भाजपा चौथी बार सत्ता में आ जाती. कोरबा में अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा की उनके विभाग की योजनाओं में भी जमकर भ्रष्टाचार हुआ है. उनके विभाग द्वारा जो साइकिलें बांटी गईं उसमें भी कमीशन खोरी हुई है. उन्होंने कहा कि यदि साइकिलें न बांटी गई होतीं और यह पैसा किसानों के कर्ज माफी में लगा दिया होता और बिजली बिल हाफ कर दिया होता तो आज राज्य में कांग्रेस की बजाए भाजपा की सरकार होती.

लोकसभा चुनाव 2019 : छत्तीसगढ़ में क्या बीजेपी इस बार भी खिला पाएगी गुल?

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में पूर्व श्रम मंत्री भैया लाल रजवाड़े ने कहा कि 200 करोड़ के साइकिल सिलाई मशीन वितरण में दलाली हुई जिसको मिलना चाहिए उसको नहीं मिला, इसलिए ये सब हार की सुनामी में आ गया और पार्टी हार गई. लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कटघोरा में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व श्रम मंत्री भैयालाल राजवाड़े ने माना कि 200 करोड़ से साइकिल और सिलाई मशीन नहीं बांटनी चाहिए थी. ये जिसको मिलना चाहिए था उसको न मिलकर किसी और को मिला और इसके वितरण में खूब घपला हुआ. 

BJP के 9 उम्मीदवारों की एक और लिस्ट जारी, रमन सिंह के बेटे का कटा टिकट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कटघोरा विधानसभा में आयोजित एक दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन में भाजपा सरकार में श्रम मंत्री रहे राजवाड़े ने कहा कि साइकिल और सिलाई मशीन नहीं बांटते और ये पैसे किसानों को दे देते, उनका कर्जा माफ कर देते, बिजली बिल हाफ कर देते तो लगता की हां सबको मिल गया. उन्होंने कहा कि वो तत्कालीन रमन सरकार विरोधी बातें नहीं कर रहे हैं बल्कि वो ये सलाह उस वक्त सीएम रहे डॉ. रमन को भी दिए थे. भैयालाल राजवाड़े ने माना कि हार के पीछे यही सब कारण बनें. पैसे भी खर्च हुए और सही लोगों तक पहुंचे भी नहीं. 

छत्तीसगढ़ में सरगुजा से रेणुका सिंह, रायगढ़ से गोमती साय बीजेपी की उम्मीदवार