छत्तीसगढ़ : कोरबा जिले में दलदल में फंसकर जंगली हाथी की मौत

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिला में वन मण्डल कटघोरा में शुक्रवार की सुबह एक जंगली हाथी की मौत हो गयी. यह हाथी पिछले 48 घंटो से दलदल में फंसा हुआ था.

छत्तीसगढ़ : कोरबा जिले में दलदल में फंसकर जंगली हाथी की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर.

छत्तीसगढ़ :

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिला में वन मण्डल कटघोरा में शुक्रवार की सुबह एक जंगली हाथी की मौत हो गयी. यह हाथी पिछले 48 घंटो से दलदल में फंसा हुआ था. वन विभाग उसका रेसक्यू  करने में विफल रहा. वन मंडल कटघोरा के केदई रेंज के तहत ग्राम पंचायत कुल्हरिया का है. विलम से मिली जानकारी के अनुसार ग्रामीणों को गुरुवार को इस हाथी के दलदल में फंसे होने का पता चला. उन्होंने हाथी के दलदल में फंसे होने की सूचना पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों को दी. गुरुवार को वन विभाग के उड़नदस्ते की टीम मौके पर पहुंची.

वन विभाग के अधिकारियों ने दलदल में फंसे हाथी को बाहर निकालने का प्रयास किया. शाम 5 बजे अंधेरा घिर जाने और आसपास जंगली हाथियों के दल के मौजूद होने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोक दिया गया. शुक्रवार की सुबह वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा तब तक जंगली हाथी की मौत हो चुकी थी. केदई रेंज के वन परिक्षेत्र अधिकारी अश्विनी चौबे ने बताया कि सूचना मिलते ही उड़नदस्ते की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई थी. गजराज को निकालने के लिए विभाग ने जेसीबी मशीन की सहायता ली.

लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली. उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह पहले पाली के जंगल में भी एक हाथी की पहाड़ से गिरने से मौत हो गई थी. ठीक सप्ताह भर बाद यह दूसरी बड़ी घटना है. ग्रामीणों ने बताया कि लगभग एक माह से पाली कुल्हरीया पीपलडाड, पनगवा, बगबुडी, झिनपुरी, बुडापारा, कुरथा आदि गांवों में हाथियों ने डेरा डाल रखा है, जिसके कारण लोग रतजगा करने को मजबूर हैं. हाथियों के उत्पात से ग्रामीणों में भारी आक्रोश भी है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com