NDTV Khabar

जंगल की जमीन पर पत्नी का रिसॉर्ट, मंत्री ने कहा- कुछ भी गलत नहीं किया

छत्तीसगढ़ सरकार में वरिष्‍ठ मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की पत्नी पर आरोप है कि उन्होंने वन विभाग की जमीन खरीदी और अब उस पर रिसॉर्ट बनवा रही हैं.

1.7K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जंगल की जमीन पर पत्नी का रिसॉर्ट, मंत्री ने कहा- कुछ भी गलत नहीं किया

खास बातें

  1. कृषि, पशुपालन, मत्स्य और जलसंसाधन मंत्री हैं बृजमोहन अग्रवाल
  2. सिरपुर में 4.12 एकड़ में बन रहा है श्याम वाटिका रिसॉर्ट
  3. सविता अग्रवाल ने 5 लाख, 30 हजार रुपये में खरीदी यह जमीन
रायपुर: पत्नी जंगल की ज़मीन पर आलीशान रिस़ॉर्ट बनवा रही हैं, पति के मंत्रालय ने कह दिया इस पर कार्रवाई संभव नहीं है. मामला छत्तीसगढ़ सरकार में वरिष्‍ठ मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और उनकी पत्नी सविता अग्रवाल से जुड़ा हुआ है. आरोप है कि सविता अग्रवाल और उनके बेटे 4.12 एकड़ सरकारी जमीन खरीदकर उस पर रिसॉर्ट बनवा रहे हैं. इस जमीन को विष्‍णु साहू नाम के एक शख्स ने वन विभाग को दान किया था. सविता अग्रवाल ने इस जमीन को  2009 में खरीदा. 

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के बैकुंठपुर गांव में हुआ 'जीएसटी' का जन्म

बृजमोहन अग्रवाल छत्तीसगढ़ सरकार में कृषि, पशुपालन, मत्स्य और जलसंसाधन जैसे भारी-भरकम महकमे संभालते हैं. दस्तावेजों के मुताबिक, छत्तीसगढ़ में महासमुंद ज़िले के सिरपुर इलाके के पास श्याम वाटिका नाम के इस रिसॉर्ट को 4.12 एकड़ सरकारी जमीन खरीदकर बनाया जा रहा है. बनाने के लिए आदित्य सृजन प्राइवेट लिमिटेड और पुरबासा वाणिज्य प्राइवेट लिमिटेड ने जमीन खरीदी थी. आदित्य सृजन की निदेशक सविता अग्रवाल और मंत्री के बेटे अभिषेक अग्रवाल हैं और पुरबासा वाणिज्य के एक डायरेक्टर अभिषेक अग्रवाल हैं.
 
brijmohan agrawal

जब रिसॉर्ट को लेकर  बृजमोहन अग्रवाल से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कह दिया कि इस पर कार्रवाई संभव नहीं है. उन्होंने कि सब कानून के तहत हुआ है. इसमें कुछ भी गलत नहीं है. जब उन्होंने ज़मीन खरीदी तब वह उस किसान के नाम पर थी.  
बताया जा रहा है कि इस जमीन को विष्‍णु साहू नाम के एक शख्स ने वन विभाग को दान किया था. सविता अग्रवाल ने इस जमीन को सितंबर 2009 में खरीदा. सौदे के वक्‍त भी रमन सिंह सरकार के कई अधिकारियों ने इस पर सवाल उठाए थे कि सरकारी जमीन का सौदा जायज नहीं है. बावजूद इसके सौदा हुआ. सरकार अब कह रही है वह रिपोर्ट मंगवाएगी. मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा उन्हें इसकी जानकारी मिली है. कई सारे तथ्य अलग-अलग मंत्रालयों से संबंधित हैं. 

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में एक कलेक्टर ने बेटी का सरकारी स्कूल में कराया दाखिला

बृजमोहन अग्रवाल 1990 से रायपुर से विधायक हैं. जब कथित सरकारी ज़मीन का सौदा हुआ तब उनके पास शिक्षा, लोक निर्माण, संसदीय कार्य, पर्यटन और संस्कृति मंत्रालय था. जमीन रजिस्ट्री रिकॉर्ड के अनुसार मंत्री की पत्नी ने खसरा नंबर 1.38, और 1.37 की कुल 4.12 एकड़ जमीन 12 सितंबर 2009 को 5 लाख, 30 हजार 600 रुपये में खरीदी.

VIDEO: जंगल की जमीन पर पत्नी का रिसॉर्ट वन मंत्रालय भी मामले सामने आने के बाद जांच की बात कह रहा है. वन मंत्री महेश गागड़ा ने कहा शिकायत मिलने के बाद वे सारे तथ्य देख रहे हैं. संपत्ति के मूल्य का आंकलन जांच के बाद ही हो पाएगा. उधर, विपक्ष मामले में अब सीधी कार्रवाई चाहता है. विपक्ष ने इसे पद के दुरूपयोग और भ्रष्टाचार का मामला बताया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement