NDTV Khabar

मध्यप्रदेश : कांग्रेस ने पत्रकारिता की छात्रा से रेप के मामले में CBI जांच की मांग की

बेल मिलने के बाद छात्रा का आरोप है कि विधायक उन्हें न सिर्फ बदनाम करने की धमकी दे रहे थे, बल्कि पूरे मामले में क्राइम ब्रांच की सीएसपी भी शामिल थीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश : कांग्रेस ने पत्रकारिता की छात्रा से रेप के मामले में CBI जांच की मांग की

प्रतीकात्मक तस्वीर.

भोपाल: मध्यप्रदेश में अटेर से कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे ने पहले पत्रकारिता की एक छात्रा पर ब्लैकमेलिंग के आरोप लगाए. इसके बाद लड़की को जेल हुई. जेल से उसने विधायक पर बलात्कार की शिकायत दी. इसके आधार पर विधायक के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई. बेल मिलने के बाद छात्रा का आरोप है कि विधायक उन्हें न सिर्फ बदनाम करने की धमकी दे रहे थे, बल्कि पूरे मामले में क्राइम ब्रांच की सीएसपी भी शामिल थीं. उधर कांग्रेस पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रही है.

यह भी पढ़ें : मध्य प्रदेश: शादी का वादा करके किया दुष्कर्म, फिर केरोसीन डालकर लगा दी आग

भोपाल सेंट्रल जेल से रिहा होने के बाद पत्रकार भवन में पत्रकारों से मुख़ातिब होकर पत्रकारिता की छात्रा ने न सिर्फ हेमंत कटारे बल्कि क्राइम ब्रांच की सीएसपी रश्मि मिश्रा को भी कठघरे में खड़ा किया. जब उससे पूछा गया कि वो इतने दिनों तक चुप क्यों रही और ब्लैकमेलिंग में जेल जाने के बाद ही बोलने का फैसला क्यों किया तो छात्रा ने कहा, मेरी ऐसी फोटो, वीडियो उसके (कटारे) पास है अगर आज भी वो सामना आते हैं तो मेरी मां की मौत हो जाएगी. 

यह भी पढ़ें : बदमाशों ने पहले पुलिस को बनाया बंधक, लूट ली गाड़ी, फिर उनकी वर्दी पहन किया लड़की को किडनैप

क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर उन्होंने पूरी साजिश रची. वहां मुझसे बहुत चीजें बनवाई गईं वीडियो बनवाया गया, एफिडेविट पर साइन करवाया गया. लड़की की मां की शिकायत पर विधायक पर अपहरण और परिवार को धमकाने का मामला दर्ज हुआ. मामले में पहले दिन से हेमंत मीडिया के सामने नहीं आए. सिर्फ सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिये उन्होंने खुद को बेकसूर बताया था और कहा था कि महिला ने क्राइम ब्रांच के सामने कबूला कि ये पूरा कारनामा दो नंबर के पैसों की उगाही के लिये किया जा रहा था. इस गैंग में कोई और लोग शामिल हैं.

मामले में जेल में बंद रहने के दौरान छात्रा के तीन वीडियो, उसकी मां, हेमंत कटारे और मामले में फरार एक शख्स विक्रमजीत का वीडियो आया. कांग्रेस का आरोप है वह बीजेपी कार्यकर्ता है, मामले की जांच सीबीआई करे. उधर सरकार का कहना है कि कानून अपना काम करेगा. यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष कुणाल चौधरी ने कहा, लगातार बीजेपी के बड़े-बड़े नेताओं का मामले में नाम आया, चाहे मुन्ना भदौरिया हों या अरविंद. एक ऑडियो वायरल हुआ है साजिशन हुआ है, हमारी मांग है सीबीआई जांच हो. वहीं बीजेपी प्रवक्ता डॉ हितेष बाजपेयी ने कहा पूरी घटना कांग्रेस के लिए कड़वा कासव है. इसमें क्राइम, सेक्स और पॉलिटिक्स है. इससे कांग्रेस बाहर नहीं आ पाती है. कानून को अपना काम करने देना चाहिये. जांच में सब दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा.

टिप्पणियां
VIDEO :  मध्य प्रदेश : शादी के कार्ड पर लिखवाया, कमल का फूल, हमारी भूल


मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन हुआ है. पुलिस का कहना है सबकी जांच होगी. उसके अपने अधिकारी की भी. एसआईटी प्रमुख भोपाल नॉर्थ के एसपी राहुल कुमार लोढा ने कहा एसआईटी में तीनों मामला ट्रांसफर हो गया है, जो चीजें सामने आएंगी उसके आधार पर कार्रवाई करेंगे. पहले जो विवेचना हुई है तीनों डायरी आई है. उसके आधार पर कार्रवाई होगी. कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे इस मामले में पहले पीडि़त बने अब आरोपी बनते दिख रहे हैं, मामला इसलिये भी सुर्खियों में है क्योंकि क्राइम ब्रांच की एक वरिष्ठ अधिकारी पर छात्रा ने उसे फंसाने के आरोप लगाए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement