NDTV Khabar

मध्य प्रदेश: 5 हजार रुपये के लिए सरकारी अस्पताल ने गर्भवती महिला का नहीं किया इलाज

मध्य प्रदेश में एक बार फिर से सरकारी अस्पताल का शर्मनाक चेहरा सामने आया है. मध्य प्रदेश के दमोह में 5 हजार रुपये के लिए सरकारी अस्पताल के स्टाफ ने गर्भवती महिला का नहीं इलाज किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य प्रदेश: 5 हजार रुपये के लिए सरकारी अस्पताल ने गर्भवती महिला का नहीं किया इलाज

Madhya Pradesh: दमोह (Damoh) का सरकारी अस्पताल (Government Hospital)

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में एक बार फिर सरकारी अस्पताल का शर्मनाक चेहरा सामने आया है. मध्य प्रदेश के दमोह में पांच हज़ार रुपये की मामूली रकम के लिए सरकारी अस्पताल के स्टाफ ने गर्भवती महिला का इलाज नहीं किया. घटना मंगलवार रात को तेंदूखेड़ा में हुई. गर्भवती महिला के पति ब्रजेश रैकवार ने कहा कि 'मैं यहां अपनी पत्नी की डिलीवरी के लिए अपने परिवार के साथ आया था. अस्पताल की नर्स ने कहा कि मुझे पांच हजार रुपये जमा करने होंगे, वरना वह कुछ भी नहीं करेगी.'

यूपी: गर्भवती महिला को अस्पताल से बाहर निकाला, सड़क पर बच्चे को दिया जन्म


हालांकि, अस्पताल के स्टाफ ने ऐसे किसी दावों से इनकार किया है. वहीं, एसडीएम नारायण सिंह ने  कहा कि मरीज के परिजनों के बयान से यह बात पता चली है कि अस्पताल के स्टाफ ने पैसे की मांग की थी. हम इस मामले को देख रहे हैं और उचित कार्रवाई की जाएगी. 

सफदरजंग एन्क्लेव में घरेलू सहायिका ने की आत्महत्या, पुलिस ने शुरू की जांच

टिप्पणियां

बताया जा रहा है कि गर्भवती महिला को बाद में दूसरे सरकारी अस्पताल में शिफ्ट किया गया, जहां उसका इलाज हुआ. बता दें कि इससे पहले भी राज्य में अस्पताल प्रशासन की लापहरवाही के कई मामले सामने आ चुके हैं.

VIDEO: 12 किलोमीटर पैदल चलकर गर्भवती पत्नी को एंबुलेंस तक पहुंचाया पर...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement