NDTV Khabar

मध्‍यप्रदेश में भी दोहराई गई सोनभद्र जैसी घटना, जमीन विवाद में दो समुदायों में झड़प में 13 लोग घायल

राजगढ़-करनवास के समेली गांव में 15 बीघा जमीन पर कब्ज़ा लेने के दौरान झगड़ा शुरू हुआ. जानकारी के मुताबिक, यहां कंजर और धनगर समाज में काफी लंबे समय से जमीन को लेकर विवाद चला आ रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्‍यप्रदेश में भी दोहराई गई सोनभद्र जैसी घटना, जमीन विवाद में दो समुदायों में झड़प में 13 लोग घायल

घटना के बाद जिले से अतिरिक्त पुलिसबल बुलाकर गांव में तैनात किया गया

भोपाल:

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में एक ग्राम प्रधान की गोलीबारी में 10 आदिवासियों के मारे जाने और 19 के घायल होने के दो दिन बाद, सोनभद्र से लगे मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में शुक्रवार को एक ऐसी ही घटना घटी. वहीं रविवार को भोपाल के करीब़ राजगढ़ में ज़मीन विवाद के एक और मामले में दो समुदायों के बीच झगड़े और गोलीबारी में 4 महिलाओं सहित 13 लोग घायल हो गए जिसमें 6 की हालत नाज़ुक है. राजगढ़-करनवास के समेली गांव में 15 बीघा जमीन पर कब्ज़ा लेने के दौरान झगड़ा शुरू हुआ. जानकारी के मुताबिक, यहां कंजर और धनगर समाज में काफी लंबे समय से जमीन को लेकर विवाद चला आ रहा है. जमीन पर कब्जे को लेकर रविवार को धनगर समाज के लोग पुलिस को लेकर गांव गए थे. इस दौरान कंजर समाज के लोगों ने हमला कर दिया. जवाब में दूसरे पक्ष के लोगों ने भी हमला किया. विवाद में दोनों पक्षों की ओर से गोलियां चली हैं.

घटना के बाद जिले से अतिरिक्त पुलिसबल बुलाकर गांव में तैनात किया गया. वरिष्ठ अधिकारी गांव में पहुंच गए हैं. पुलिस को गांव से बड़ी संख्या में हथियार मिले हैं. पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है. सहायक उप निरीक्षक एनडी मिश्रा ने कहा, "आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है."


योगी आदित्यनाथ के सोनभद्र दौरे पर प्रियंका गांधी ने कसा तंज, कहा- अपना फर्ज पहचानना अच्छी बात

वहीं सिंगरौली ज़िले में जमीन के विवाद में ट्रैक्टर पर सवार तीन आरोपियों ने एक 35 साल की आदिवासी महिला किरण कोल और उनके ससुर बिसेसर कोल पर हमला किया. किरण की शनिवार को सिंगरौली जिले के चितरंगी इलाके के एक अस्पताल में मौत हो गई, वहीं उसके ससुर बिशार को खतरे से बाहर बताया गया है. बंधु वैश्य ने ढेलारी गांव में आदिवासी किसान बिशार के स्वामित्व वाली भूमि के एक टुकड़े को खरीदा था. शुक्रवार को, बंधु वैश्य, उसका बेटा लालपति वैश्य और पोते प्रभाकर वैश्य ट्रैक्टर पर सवार होकर अपने खेत की जुताई कर रहे थे. लेकिन अचानक तीनों बिसेसर के खोत को जोतने लगे जिसे देखकर उन्होंने बिसेसर और उनकी बहू ने विरोध किया.

सोनभद्र घटना के पीड़ितों से प्रियंका की मुलाकात को नकवी ने बताया राजनीतिक फोटोसेशन

टिप्पणियां

लेकिन पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने उनपर ट्रैक्टर चढ़ा दिया बाद में लाठी से भी उनकी पिटाई की गई. जब स्थानीय ग्रामीण उन्हें बचाने दौड़े तो आरोपी वहां से भाग गये. सिंगरौली जिले के पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन ने कहा कि तीन आरोपियों में से दो, बंधु वैश्य और पोते प्रभाकर को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि अन्य आरोपियों को पकड़ा जाना बाकी है. आरोपियों पर हत्या, आदिवासियों के खिलाफ अत्याचार और आदिवासी किसानों की भूमि पर कब्जा करने का प्रयास करने के लिए मामला दर्ज किया गया है.

VIDEO: सोनभद्र: जमीन विवाद के चलते दबंगों ने की 10 लोगों की हत्या



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement